मोदी सरकार का पैकेज आम आदमी को नही बल्की उद्योगपतियों को आत्मनिर्भर करनेवाला-डॉ. सुधीर ढोणे

  • अदानी, अंबानी, अग्रवाल, बिर्ला इन्ही का होगा फायदा

अकोला. मोदी सरकार ने हाल ही में २० लाख करोड का पैकेज घोषित किया. यह पैकेज आंकडो की बाजीगरी है. प्रत्यक्ष मे यह पैकेज २ लाख करोड का ही है. यह पैकेज उद्योगपतियों को आत्मनिर्भर करने वाला रहने का कटाक्ष प्रदेश काँग्रेस के प्रवक्ता डॉ. सुधीर ढोेणे ने किया. उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार के पैकेज से गौतम अदानी, अनिल अंबानी, बिरला सहित अनेक उद्योगपतियों का फायदा होगा.डॉ. ढोणे ने कहा कि, किसी भी प्रकार का ऑडिट न होने वाले और केवल भाजपा के मंत्री सदस्य रहने वाले पीएम केयर फंड में दी गई निधि से कई सालों से भाजपा को चंदा देने वाले उद्योगपतियों का लाभ करवाने के लिए कोरोना के आड में सरकार ने पैकेज घोषित किया है. आम जनता के हाथ पैकेज में कुछ भी नही आएगा.

सरकारी और सार्वजनिक उपक्रमों की ईकाइयों का निजीकरण करने के लिए महामारी की आड लिए जाने का आरोप डॉ. ढोणे ने किया. ढोणे ने यह भी आरोप लगाया की, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित पैकेज में अदानी कंपनी को कोयला, खनिज, संरक्षण, उर्जा के अनेक ठेके दिए गए. अहमदाबाद, तिरूअनंतपुरम, लखनऊ, मैंगलोर, गुवाहाटी, जयपुर हवाई अड्डे की नीलामी होगी. बिरला की हिंडाल्को कंपनी और अग्रवाल की वेदांता कंपनी को कोयला व खनिज के अनेक ठेके दिए जाएंगे, अंबानी के रिलायन्स इन्फ्रास्ट्रक्चर को पिछले साल राजकोट हवाई अड्डे के लिए ६४८ करोड का ठेका मिला. नए पैकेज के अनुसार ६ नए हवाई अड्डे की नीलामी सरकार करेगी. अंबानी सहित जीएमआर व जीवीके वंâपनी को भी हवाई अड्डा मिलेगा. वेंâद्र शासित प्रदेश की बिजली कंपनीयो का निजीकरण भी किया जा रहा है. सभी सरकारी कंपनीयों पर भविष्य में अदानी व अंबानी की मिल्कियत रहेगी. बॉक्साइड व कोयला की करीब ५०० खान निजी कंपनीयों को बेची जाएगी. मोदी सरकार के पैकेज का लाभ जनता को नही, बल्कि उद्योगपतियों को मिलने का आरोप डॉ. सुधीर ढोणे ने किया.