Time period increased for Nafed's purchase of chana

अकोला. सरकार ने तुअर और चने की खरीदी के लिए नाफेड को 16 जून की अंतिम तिथि दी थी लेकिन इस अवधि तक सभी किसानों का चना खरीदना असंभव रहने से किसानों की मांग को देखते हुए सरकार की ओर समयावधि बढ़ाने का प्रस्ताव प्रेषित किया गया था जो मंजूर हो गया है. अब आगामी आदेश तक चने की खरीदी करने के लिए समयावधि बढ़ाकर दिये जाने की जानकारी जिला उप निबंधक डा.प्रवीण लोखंडे ने दी है. सरकार की ओर से नाफेड मार्फत तुअर व चना की खरीदी शुरु किए जाने से किसानों को उचित दाम मिल रहे हैं.

लेकिन खरीदी के लिए आने के बाद तांत्रिक बाधाएं व मानव बल की कमी को देखते हुए नाफेड द्वारा धीमी गति से कृषि उपज की खरीदी की जा रही है जिसके कारण हजारों किसानों के पास आज भी चना उपलब्ध है. अब किसानों को प्रतिदिन केवल प्रति किसान 25 क्विंटल चना बेचने की अनुमति दी गयी है. जिसके कारण कई किसानों को अपना चना बेचने में 2-3 दिन का समय लग जाता है. यह शर्त रद्द करने के संदर्भ में अब तक नर्दिेश प्राप्त न होने की जानकारी जिला उप निबंधक डा.प्रवीण लोखंडे ने दी है.