crime

अमरावती. शहर में सक्रिय बदमाशों के खिलाफ कोबिंग आपरेशन, तड़ीपार, एमपीडीए व मकोका जैसे कार्रवाई किए जाने से भले ही संगीन क्राइम ग्राफ कम हुआ है, लेकिन सिटी में अपराधों का सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है. वर्ष 2020 के 10 माह में शहर में 19 हत्या, 55 हॉफ मर्डर, 62 दुष्कर्म, 57 रॉबरी, 12 चैन स्नैचिंग, 1 डकैती, 180 बड़ी चोरियां व 274 बाइक चोरियों की घटनाएं हुई है, संगीन क्राइम का यह आंकड़ा पिछले वर्ष 2019 की तुलना में कम है.

पिछले वर्ष 22 हत्या, 57 हॉफ मर्डर, 72 दुष्कर्म, 5 डकैती, 300 बाइक चोरी हुई थी. लेकिन इस वर्ष थानों में दर्ज मामलों की संख्या में वृध्दि हुई. इस वर्ष 10 माह में 2840 मामले दर्ज हुए हैं, जबकि पिछले वर्ष 2019 में कुल 2752 मामले दर्ज हुए थे.

महिला अत्याचार से संबंधित प्रकरण में कमी

सीपी डा.आरती सिंह ने 9 अक्टूबर से पुलिस आयुक्तालय का चार्ज संभालते ही महिला अत्याचार से संबंधित मामलों की गंभीरता से दखल लेकर कार्रवाई का कदम उठाया है. छेड़छाड़ की घटनाओं पर प्रतिबंध लगाने 6 महिला दामिनी स्क्वॉड का गठन किया है. कुछ हद तक महिला अत्याचार से संबंधित प्रकरणों पर अंकुश लगा पाया है. इस वर्ष महिला अत्याचार से संबंधित प्रकरण में कमी आयी है.

इस वर्ष कुल 62 दुष्कर्म, विनयभंग के 255, महिला प्रताड़ना के 65 के मामले दर्ज हुए हैं, जबकि पिछले वर्ष दुष्कर्म के 72 प्रकरण, विनयभंग के 246 तथा महिला प्रताड़ना के 77 मामले दर्ज हुए हैं. इस वर्ष छोटी-बड़ी कुल 696 चोरियां, घर में सेंध 180 घटना हुई. दुर्घटना में मौत की 66 मामले दर्ज किए, जबकि मारपीट-दंगा फैलाने के 61 मामले दर्ज है.

गाड़गेनगर में सर्वाधिक मामले दर्ज

इस वर्ष 2020 में जनवरी से अक्टूबर माह तक कुल 2840 मामले दर्ज हुए हैं, जिसमें सर्वाधिक गाड़गे नगर में 642 मामले, बडनेरा 206, फ्रेजरपुरा 461, नागपुरी गेट 219, वलगांव 421, राजापेठ 333, कोतवाली 164, नांदगांव पेठ 142, खोलापुरी गेट 118, साइबर सेल 71, भातकुली 53 मामले दर्ज किए हैं.

वर्ष 2020 में अक्टूबर तक दर्ज प्रकरण

प्रकरण संख्या

हत्या           19

हाप मर्डर 55

दुष्कर्म 62

रॉबरी 57

बडी चोरी        180

छोटी चोरी        696

बाइक चोरी 274

विनयभंग 255

दंगा 61

चैन स्नैचिंग 12

डकैती 1