अमरावती में दुबारा सर्वेक्षण – आयुक्त ने लिया स्वच्छ भारत अभियान की समीक्षा

अमरावती. महानगर पालिका क्षेत्र में दुबारा स्वच्छ सर्वेक्षण अभियान चलाया जाएगा. जनवरी माह में स्वच्छ सर्वेक्षण की जांच की जाएगी. मार्च माह तक चरण बध्द तरीके से चलनेवाली इस स्पर्धा की निगमायुक्त प्रशांत रोड़े ने समीक्षा की. स्वच्छ भारत सर्वेक्षण अभियान आयोजित करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण सूचनाएं भी दी. 

स्वच्छ भारत अभियान अंतर्गत चलाइ जानेवाली स्वच्छ सर्वेक्षण 31 मार्च 2021 तक चलाई जाएगी. सर्वेक्षण अंतर्गत चलाए जानेवाली उपक्रमों की जानकारी ली. जिसके उपलक्ष्य में सभी को मार्गदर्शिका पढ़ना, शहर का स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 का प्रत्यक्ष निरीक्षण 1 मार्च 2021 से 21 मार्च 2021 तक किया जाएगा.

इसके पूर्व दिसंबर 2020 अथवा जनवरी 2021 में शहर का ओडीएफ पुर्नजांच, पानी व 3 से 5 स्टार का सर्वेक्षण होगा. सिटीझन फिडबैक का समय 4 जनवरी से 28 मार्च तक का होगा. प्रत्यक्ष निरीक्षण करते समय सिटीझन फिडबैंक लेने 1 मार्च से 31 मार्च तक का समय है. 

जनप्रतिनिधियों का समावेश 

शहर में चलाइ जानेवाले स्वच्छ सर्वेक्षण अभियान में पार्षदों को शामिल किया जाएगा. प्रभाग में स्वास्थ्य निरीक्षक, शिक्षा विभाग, एनयूएलएम, महिला बचत गुट, गृहनिर्माण सोसायटी, नागरिक व पदाधिकारियों को शामिल करने की सूचना है

शतप्रतिशत कचरा संकलन 

इस दौरान शतप्रतिशत कचरा संकलन किया जाएगा. प्रभाग निहाय प्रत्येक दो खाद निर्मिती प्रकल्प तैयार किया जाएगा. दैनंदिन व्यावसायिक, निजी क्षेत्र में रात्री के दौरान सफाई की जाएगी. हमेशा कचरा दिखाई देनेवाली जगह का सौंदर्यीकरण किया जाएगा. गोबर खाद को उठाया जाएगा, नालों की नियमित सफाई होगी.

सफाई कर्मियों को भी गणवेश, गमशूज, जैकेट्स, हैंडसौक्स, मास्क का वितरण किया जायेगा. बैठक में वैद्यकीय अधिकारी डा. सिमा नेताम, सभी ज्येष्ठ स्वास्थ्य निरीक्षक,सभी स्वास्थ्य निरीक्षक, स्वच्छ भारत अभियान अमरावती शहर समन्वयक डॉ. श्वेता बोके आदि उपस्थित थे.