covid test

    औरंगाबाद. शहर में तेजी से पांव पसार रहे कोरोना महामारी के दौरान कई निजी लैब (Private Lab) ने नागरिकों से कोविड टेस्ट (Covid test) के लिए मनमानी दाम वसूलने की कई शिकायतें (Complaints) प्राप्त हुई है। साथ ही लैब चालक नागरिकों को मनचाहे रिपोर्ट देने के कई मामले सामने आए है। इन मामलों को मनपा प्रशासन ने गंभीरता से लेकर निजी लैब को कोविड टेस्ट करने पर पाबंदी (Restriction) लगाई है। यह जानकारी मनपा प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय ने दी। 

    प्रशासक पांडेय ने बताया कि प्रशासन द्वारा निजी लैब चालकों को मरीजों के घर जाकर कोविड को लेकर स्वैब कलेक्ट न करने की सूचना दी गई है। अस्पतालों और महानगरपालिका के सभी कोविड टेस्ट केन्द्र में शहर वासियों ने कोविड टेस्ट कराने की अपील प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय ने की। गौरतलब है कि गत एक माह से शहर में फिर एक बार कोरोना महामारी ने तेजी से पांव पसारे है। 

    जारी किए आदेश

    महामारी के तेजी से पांव पसारने के बाद निजी लैब चालकों ने कोरोना टेस्टिंग के नाम पर औरंगाबाद वासियों से लूट खसोट शुरु की थी। कई मरीज कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद उनसे मनमानी रकम वसूलकर उनकी रिपोर्ट निगेटिव देने का गोरखधंधा जारी था। इसको लेकर कई शिकायतें मनपा प्रशासन के पास पहुंची थी। इन शिकायतों को मनपा प्रशासक पांडेय ने गंभीरता से लेकर निजी लैब चालकों को कोविड टेस्ट कराने पर पाबंदी लगाने का निर्णय लिया। इसके आदेश मंगलवार को जारी किए गए।