औरंगाबाद. बीते दो माह से औरंगाबाद शहर वासी कोरोना कहर को लेकर चिंतित है, वहीं दूसरी तरफ शहर के साथ-साथ अब ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना ने बड़े पैमाने पर पांव पसारने शुरु किए है. हर दिन ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा होने से स्वास्थ्य विभाग सहित जिला प्रशासन की नींद हराम है. 

मंगलवार की सुबह को जिले में 163 मरीज संक्रमित पाए गए. जिसमें 51 संक्रमित मरीज ग्रामीण क्षेत्र के है. जिससे कुल संक्रमितों का आंकड़ा 3819 पर जा पहुंचा है. आज मिले कुल 163 मरीजों में 112 मरीज मनपा क्षेत्र के  तथा 51 मरीज ग्रामीण क्षेत्र के है. कुल 3819 मरीजों में 2 हजार 46 कोरोना बाधित मरीज इस महामारी से मुक्त होकर घर लौटे है. वहीं, 206 लोगों ने अब तक इस महामारी से अपनी जान गंवायी. वर्तमान में 1 हजार 570 मरीजों पर सरकारी घाटी अस्पताल, जिला सरकारी अस्पताल तथा निजी अस्पतालों में  इलाज जारी है. मंगलवार को मिले कुल 163 मरीजों में 55 महिला तथा 108 पुरुष शामिल है.

24 घंटे में तीन लोगों ने गंवायी जान

शहर के पीर बाजार के एक तथा ग्राणीण क्षेत्र के  वैजापुर एवं फुलंब्री तहसील के एक-एक इस तरह कुल 3 मरीजों ने घाटी में जान गंवायी. जिससे जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 206 पर जा पहुंची है. कोरोना बाधित वैजापुर तहसील के वंजारगांव निवासी 66 वर्षीय वृध्द ने सोमवार  शाम 4 बजे दम तोडा. उधर, शहर के पीर बाजार निवासी 86 वर्षीय वृध्द ने शाम 5 बजे दम तोडा. इसके अलावा 60 वर्षीय फुलंब्री तहसील के एक व्यक्ति ने सोमवार रात 8 बजे घाटी अस्पताल में दम तोडा. कोरोना से बाधित हुए यह तीनों मृतक मरीज सांस लेने की तकलीफ से परेशान थे. इसके अलावा वे निमोनिया के  शिकार थे.

वालूज में कहर बरपा रहा

शहर से सटे ग्रामीण क्षेत्र के वालूज  में कोरोना का कहर बरप रहा है. वालूज परिसर  के बजाज नगर के  सिध्दी विनायक हाउसिंग सोसाईटी, राजतिलक हाउसिंग सोसाईटी, ओयोसिस  चौक पंढरपुर, सारा गौरव बजाज नगर, ग्रोथ सेंटर बजाज नगर, जय भवानी चौक बजाज नगर, पंचगंगा हाउसिंग सोसाईटी बजाज नगर, बीएसएनएल गोदाम के निकट बजाज नगर, दीप ज्योति  हाउसिंग सोसाईटी जिले के मांडकी, बजाज नगर, पंढरपुर, विराज हाईट बजाज नगर के अलावा करमाड, फुलंब्री, गंगापुर, शिवुर बंगला, वैजापुर इन क्षेत्रो में कोरोना संक्रमित मरीज पाए जा रहे है.