Vaccination
File Photo

    औरंगाबाद. औरंगाबाद शहर (Aurangabad City) में फिर एक बार कोरोना महामारी ने तेजी से पांव पसारे हैं। इस पर रोक लगाने के लिए राज्य सरकार (State Government) ने औरंगाबाद महानगरपालिका प्रशासन (Aurangabad Municipal Corporation Administration) को टीकाकरण (Vaccination) के कार्य में गति लाने के आदेश दिए हैं।

    उस आदेश पर महानगरपालिका प्रशासन ने अप्रैल माह के अंत तक 2 लाख 16 हजार नागरिकों को कोरोना टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। यह जानकारी मनपा की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नीता पाडलकर (Dr. Neeta Padalkar) ने दी।

    अब तक 46 हजार लोगों को टीका लगा

    उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी पर ब्रेक लगाने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा दो टीके  लगाने को मंजूरी देने के बाद 16 जनवरी से देश भर में टीकाकरण मुहिम आरंभ हुई। प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मचारी और डॉक्टरों व उसके बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स, वरिष्ठ नागरिक, बीमार लोगों को कोरोना टीका देने के निर्देश हैं। प्रथम चरण में टीका देते समय स्वास्थ्य कर्मचारी व डॉक्टरों का पंजीकरण किया गया था। इसमें 25,991 लोगों को टीका देने का पंजीकरण हुआ। उसके बाद 15,105 फ्रंट लाइन वर्कर्स का पंजीकरण हुआ। इस दौरान 45 से 49 उम्र के बीमार लोगों की संख्या 29, 260 है। साथ ही वरिष्ठ नागरिकों की संख्या 1 लाख 46, 300 है। इन सभी को अप्रैल माह के अंत तक टीका लगाने का लक्ष्य मनपा प्रशासन ने रखा है। अब तक 46 हजार लोगों को टीका लगाने की जानकारी डॉ. नीता पाडलकर ने दी। अंत में मनपा की मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि मनपा ने 50 से अधिक कोरोना मरीज वाले वार्डों को रेड जोन में शामिल किया है। ऐसे 19 वार्ड है, इन वार्डों में टीकाकरण मुहिम तेज की जाएगी।