विजया रहाटकर पुन: राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल

औरंगाबाद. शहर की पूर्व महापौर विजया रहाटकर ने भाजपा में राष्ट्रीय स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनायी है. करीब 12 वर्ष पूर्व शहर के महापौर पद से हटते ही रहाटकर को पार्टी के महिला मोर्चा की राष्ट्रीय सचिव पद दिया गया. उसके बाद महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष के बाद अब पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में राष्ट्रीय मंत्री पद पर पदोन्नति मिली है. बीते 10 सालों में विजया रहाटकर ने राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा में अपना दबदबा कायम रखा. यहीं कारण हैं कि उन्हें पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल किया गया.

 लॉकडाउन में महिलाओं को दिलाया रोजगार

बीते कुछ सालों से विजया रहाटकर पार्टी के महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर विराजमान है. 2014 व 2019 के लोकसभा चुनाव हो, या फिर यूपी, बिहार, मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव. विजया रहाटकर ने पार्टी के प्रचार के लिए दिन-रात कड़े परिश्रम किए. महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के सहारे रहाटकर ने देश की महिलाओं में पार्टी की एक छाप छोडी. कोरोना महामारी को लेकर जारी लॉकडाउन में महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए महिला मोर्चा के माध्यम से कई उपक्रम हाथ में लिए. इसमें देश स्तर पर भाजपा महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं से लाखों मास्क का उत्पादन किया.

महिला आयोग की अध्यक्ष भी थी रहाटकर

महाराष्ट्र में 2014 के विधानसभा चुनाव के बाद फडणवीस सरकार स्थापित होते ही विजया रहाटकर को महाराष्ट्र महिला आयोग का अध्यक्ष बनाया गया था. रहाटकर ने महिला आयोग का अध्यक्ष पद  स्वीकारा था, तब आयोग के पास 5 हजार 500 मामले प्रलंबित थे. उन प्रलंबित मामलों का निपटारा रहाटकर ने आयोग अपने द्वारा पर यह मुहिम चलाकर किया. महिला आयोग को राज्य के हर जिले में पहुंचाया. इन सभी कामों की दखल लेकर रहाटकर को पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में राष्ट्रीय  मंत्री से नवाजा गया.