नुकसानग्रस्त खेती का शीघ्र पंचनामा करने की मांग, जमीन में स्वयं को दफन कर

  • रविकांत तुपकर ने किया आंदोलन

बुलढाना. जिले में लगातार बारिश के कारण किसानों की फसलों का काफी नुकसान हुआ है इस ओर सरकार व प्रशासन अनदेखी कर रहा है, जिसका विरोध करते हुए नुकसानग्रस्त खेती का शीघ्र पंचनामा करने की मांग को लेकर स्वाभिमानी किसान संगठन के प्रदेशाध्यक्ष रविकांत तुपकर ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ जमीन में स्वयं को दफन कर आंदोलन किया.

जिले में 10 हजार हेक्टेयर से अधिक खेतों में किसानों की फसल बर्बाद हो गयी है. लेकिन प्रशासन द्वारा पंचनामे नहीं किए गए हैं. बुधवार को मोताला तहसील के पलढग गांव में यह आंदोलन किया गया. पंचनामे के साथ साथ किसानों को प्रति हेक्टेयर 25 हजार रु. मदद दिए जाने की मांग भी की गयी. आंदोलन के समय रविकांत तुपकर के साथ रफीक कुरेशी, विद्यार्थी संगठन के जिलाध्यक्ष आदि उपस्थित थे.