Investment of crores in the name of colleagues, demand for increased police custody

खामगांव. स्थानीय शेगांव नाका निवासी संजय रामचंद्र बोडखे की लड़की को नागपुर के गर्वमेंट फीजिओथेरपी कालेज में एडमिशन चाहिए थी. जिसके लिए नागपूर निवासी निखिल नरेंद्र आटोले, यमुनाबाई आटोले, सुभाष

खामगांव. स्थानीय शेगांव नाका निवासी संजय रामचंद्र बोडखे की लड़की को नागपुर के गर्वमेंट फीजिओथेरपी कालेज में एडमिशन चाहिए थी. जिसके लिए नागपूर निवासी निखिल नरेंद्र आटोले, यमुनाबाई आटोले, सुभाष पांडुरंग राऊत तीनों ने संजय बोडखे से सव्वा लाख रुपए लिए और एडमिशन के फर्जी दस्तावेज दिए. दरमियान संजय बोडके ने उक्त कालेज में जाकर पूछताछ की. तब धोखाधड़ी होने की बात सामने आयी.

इस संदर्भ में उन्होंने १५ जून को शहर पुलिस थाने में शिकायत दी. जिस पर से उक्त तीनों के खिलाफ आईपीसीकी धारा ४२०, ४६८, ४७१, 3४ के तहत अपराध दर्ज किया गया है. पुलिस ने आरोपी निखिल आटोले को नागपुर से गिरफ्तार किया है. उसके पास से सव्वा लाख रुपए बरामद किए गए.