टाटा मोटर्स का घरेलू बाजार में एसयूवी का सबसे बड़ा पोर्टफोलियो बनाने का लक्ष्य

नई दिल्ली: टाटा मोटर्स का लक्ष्य घरेलू बाजार में स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल्स (एसयूवी) का सबसे बड़ा पोर्टफोलियो बनाने का है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। उनका मानना है कि इससे कंपनी को यात्री वाहन बाजार में हिस्सेदारी बढ़ाने में मदद मिलेगी। कंपनी अभी एसयूवी खंड में नेक्सन और हैरियर जैसे मॉडलों की बिक्री करती है। कंपनी अपने उपभोक्ताओं के लिये बिक्री तथा इसके बाद की सेवाओं में व्यापक बदलाव की भी तैयारी कर रही है, ताकि खरीदारी का अनुभव पूरी तरह से बदल सके। 

टाटा मोटर्स के यात्री वाहन व्यवसाय के अध्यक्ष शैलेश चंद्र ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘एसयूवी पर ध्यान देने का कदम बहुत स्पष्ट है। एसयूवी सेगमेंट की ओर न केवल भारत में बल्कि वैश्विक स्तर पर भी बदलाव हो रहा है। 2015 में घरेलू बाजार में एसयूवी की हिस्सेदारी केवल 15 प्रतिशत हुआ करती थी, लेकिन इस साल यह करीब 30 फीसदी है।” 

इससे यह स्वाभाविक है कि जिसकी भी एसयूवी खंड में अधिक हिस्सेदारी होगी, उसी के पास बाजार की अधिक हिस्सेदारी भी होगी। अत: हमने कुछ समय पहले ही यह तय कर लिया था कि एसयूवी खंड में हमारा पोर्टफोलियो सबसे बड़ा होगा। उन्होंने कहा कि नेक्सन और हैरियर दोनों बिक्री के मामले में बाजार में अच्छा कर रहे हैं। (एजेंसी)