27% बढ़ा कोटक महिंद्रा बैंक का मुनाफा

मुंबई. कोरोना संकट के बावजूद निजी क्षेत्र के अग्रणी कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) ने उत्साहवर्धक नतीजे पेश किए हैं.  चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) में बैंक का शुद्ध लाभ 27%  की वृद्धि के साथ 2184 करोड़ रुपए रहा है. जबकि पिछले साल सितंबर तिमाही में इसका शुद्ध लाभ 1724 करोड़ रुपए था.  कोटक बैंक का कंसोलिडेटेड शुद्ध मुनाफा भी 22% बढ़कर 2947 करोड़ रुपए हो गया.

 दूसरी तिमाही में बैंक की कुल एकल आय बढ़कर 8,288 करोड़ रुपए रही. पिछले साल इसी दौरान कुल एकल आय 7,986 करोड़ रुपए थी.  बैंक की शुद्ध ब्याज आय 17% बढ़कर 3,913 करोड़ रुपए रही और शुद्ध ब्याज मार्जिन 4.52% रहा.

0.64% के निचले स्तर पर आया NPA

तिमाही के दौरान बैंक की कर्ज वसूली में सुधार आया. तिमाही में शुद्ध ‘एनपीए’ (NPA) घटकर 0.64% के निचले स्तर पर आ गया, जो पिछले साल इसी अवधि की समाप्ति पर 0.85% था. मूल्य के हिसाब से एनपीए एक साल पहले के 1811 करोड़ की तुलना में 1304 के बराबर रहा. हालांकि सकल एनपीए का स्तर 2.55% हो गया, जो एक साल पहले 2.32% था. बैंक के पास जमाराशियां 32% बढ़कर 106,442 करोड़ रुपए हो गई हैं.