Team india

    अहमदाबाद। अहमदाबाद में खेले गए पांचवें और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 36 रनों से करारी शिकस्त दी है। साथ ही सीरीज 3-2 से अपने नाम की। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने शुरू से आक्रामक खेल दिखाया और दो विकेट पर 224 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। रोहित ने 34 गेंद में 64 रन और कोहली ने 52 गेंद में नाबाद 80 रन बनाए। इन दोनों में पहले विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी हुई।

    उधर सूर्यकुमार यादव ने 17 गेंद में 32 रन और हार्दिक पंड्या ने 17 गेंद में नाबाद 39 रन बनाकर बड़ा योगदान दिया। मेजबानों ने अंतिम पांच ओवरों में 67 रन जोड़कर विपक्षी टीम को जीत के लिये विशाल लक्ष्य दिया। बेन स्टोक्स और आदिल राशिद को छोड़कर इंग्लैंड के सभी गेंदबाजों ने 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा लुटाये जिसमें क्रिस जोर्डन (57 रन देकर कोई विकेट नहीं) सबसे ज्यादा खर्चीले रहे।

    वहीं 225 रनों का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम जोस बटलर (52 रन) और डेविड मलान (68, 46 गेंद, नौ चौके और दो छक्के) के अर्धशतकों के बावजूद आठ विकेट पर विकेट पर 188 रन ही बना सकी। भारत के लिये शार्दुल ठाकुर ने 45 रन देकर तीन और भुवनेश्वर कुमार ने 15 रन देकर दो विकेट चटकाये जबकि आलराउंडर हार्दिक पंड्या ने 34 रन देकर और टी नटराजन ने 39 रन देकर एक एक विकेट हासिल किया। अब भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ जीत की इस (टेस्ट श्रृंखला से शुरू हुई) लय को वनडे श्रृंखला में भी जारी रखना चाहेगी जिसका पहला मैच 23 मार्च को पुणे में खेला जायेगा।

    जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड ने शुरू के मैचों में अपनी तेज रफ्तार से भारतीयों को परेशान किया था लेकिन रोहित (34 गेंद में चार चौके और पांच छक्के) और कोहली (52 गेंद में सात चौके और दो छक्के) ने इनके खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए टीम को पॉवरप्ले में 60 रन बनाने में मदद की। इन दोनों के बीच पहले विकेट के लिये 54 गेंद में 94 रन की साझेदारी बनी। इनके अलावा सूर्यकुमार यादव (17 गेंद में 32 रन, तीन चौके, दो छक्के) और पंड्या (17 गेंद में नाबाद 39 रन, चार चौके, दो छक्के) ने भी योगदान दिया। मेजबानों ने अंतिम पांच ओवरों में 67 रन जोड़कर विपक्षी टीम को जीत के लिये विशाल लक्ष्य दिया।

    बेन स्टोक्स और आदिल राशिद को छोड़कर इंग्लैंड के सभी गेंदबाजों ने 10 रन प्रति ओवर से ज्यादा लुटाये जिसमें क्रिस जोर्डन (57 रन देकर कोई विकेट नहीं) सबसे ज्यादा खर्चीले रहे। भारत ने सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल को बाहर रखने का फैसला किया ताकि तेज गेंदबाज टी नटराजन के रूप में अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सके। राहुल के नहीं खेलने से कोहली ने रोहित के साथ पारी का आगाज करने का फैसला किया जो टीम के लिये काफी बढ़िया साबित हुआ।

    इस भागीदारी में रोहित से ज्यादातर रन बटोरे और कोहली दूसरे छोर पर स्ट्रोक्स भरी पारी का लुत्फ उठाते दिखे। पहले दो मैचों में रोहित को आराम दिया गया था लेकिन वह अगले दो मैचों में कुछ अच्छा नहीं कर सके लेकिन उन्होंने शनिवार को बड़े मैच में अपनी ख्याति के अनुरूप पारी खेली। रोहित ने अपने पांचों छक्के अपने ‘ट्रेडमार्क’ शॉट से लगाये। उनके स्ट्रेट ड्राइव्स भी काफी मनोरंजक रहे जिसमें इंग्लैंड के खतरनाक गेंदबाज मार्क वुड के पहले ही ओवर में लगा शॉट था। कोहली ने भी वुड की गेंद को स्टैंड तक पहुंचाया जिसके बाद वह भी जोश में भर गये।

    रोहित ने अपना अर्धशतक छक्का लगाकर 30 गेंद में पूरा किया जो बिलकुल भी हैरानी भरा नहीं था। पर वह स्टोक्स की गेंद पर बोल्ड हो गये। इसके बाद कोहली ने अपनी पारी को खूबसूरत ढंग से आगे बढ़ाया जिसमें उन्हें दूसरे छोर पर सूर्यकुमार का साथ मिला जिन्होंने अपने पदार्पण मैच की लय को यहां भी जारी रखा और क्रीज पर उतरते ही अपने इरादे दिखा दिये। मुंबई के इस बल्लेबाज ने लेग स्पिनर आदिल राशिद पर लगातार दो छक्के जड़े। इसके बाद जोर्डन पर लगातार तीन चौके जमाये जिससे इस ओवर में 19 रन बने और तब भारत का स्कोर 12 ओवर में एक विकेट पर 133 रन था।

    सूर्यकुमार 14वें ओवर में राशिद की गेंद का शिकार बने और दूसरे विकेट के लिये 49 रन की भागीदारी का अंत हुआ। कोहली ने फिर हार्दिक के साथ मिलकर भारत को 200 रन के पार कराया। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 40 गेंद में नाबाद 81 रन की साझेदारी निभायी। इंग्लैंड को पहला झटका पहले ही ओवर में तेज गेंदबाज भुवनेश्वर ने दिया जिन्होंने सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय को दूसरी ही गेंद पर बोल्ड कर दिया। हालांकि मेहमान टीम जल्द ही इस झटके से उबर गयी।

    बटलर और मलान क्रीज पर डट गये, दोनों ने अपने अर्धशतक पूरे किये और विकेट नहीं गिरने दिया। इससे मुकाबला रोमांचक हो गया। लेकिन भुवनेश्वर ने ही दूसरे विकेट की इस 130 रन की भागीदारी का अंत बटलर को आउट कर किया जिनका कैच पंड्या ने लपका। बटलर ने 34 गेंद में दो चौके और चार छक्के जड़े। शार्दुल ने फिर अपने तीसरे ओवर में दो विकेट झटक लिये।

    पारी के 15वें ओवर में जोस बटलर को पवेलियन भेजने के बाद उन्होंने क्रीज पर जमे मलान की पारी खूबसूरत गेंद पर बोल्ड कर समाप्त की। अगले ही ओवर में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन (01) पंड्या की गेंद का शिकार हुए। इससे इंग्लैंड का स्कोर 13वें ओवर से 16वें ओवर तक दो विकेट पर 130 रन से पांच विकेट पर 142 रन हो गया। जोफ्रा आर्चर रन आउट हुए और शार्दुल ने अंतिम ओवर में एक विकेट हासिल किया।