दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस के दौरान हिंसा फैलाने में शामिल 20 और लोगों की तस्वीर की जारी

    नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन हिंसा फैलाने में शामिल लोगों की लगातार धर पकड़ में लगी हुई है। इसी क्रम में दिल्ली पुलिस ने शनिवार को लालकिले पर हुई हिंसा (Red fort Violence) में शामिल 20 और उपद्रवियों की तस्वीर जारी की है। इसके पहले पुलिस 50 लोगों की फोटो जारी कर चुकी है।

    ज्ञात हो कि, किसान संगठनों ने कृषि कानून के विरोध में गणतंत्र दिवस के दिन किसान ट्रैक्टर रैली बुलाई थी। रैली में हज़ारो की संख्या में किसान अपने ट्रैक्टर लेकर पहुंचे थे। इस दौरान रैली में शामिल लोगों ने राजधानी दिल्ली में खूब उपद्रव मचाया। इन्ही में से हज़ारो लोग लाल किले पर पहुंच गए और वहां जमकर तोड़फोड़ की। वहीं उपद्रवियों ने 15 अगस्त के दिन राष्ट्रीय ध्वज फहराने वाली जगह पर एक धर्म विशेष का झंडा लगा दिया।

    दीप सिधु समेत कई लोग गिरफ्तार 

    दिल्ली पुलिस ने अभी तक लाल किला हिंसा मामले पर मुख्य अभियुक्त अभिनेता दीप सिद्धू समेत कई लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। गिरफ्तार किये लोगों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने की जगह पर तलवार लहराने वाले मनिंदर सिंह उर्फ़ मोनी सहित किले के अंदर तोड़ फोड़ करने के लिए उकसानेवाले इक़बाल सिंह भी शामिल है।

    पुलिस पकड़ने आए तो बंधक बना लो

    अभी तक जो किसान दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर कार्रवाई की मांग कर रहे थे, वहीं अब इसको लेकर किसानों को भड़काने में लग गए हैं। हरियाणा भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने किसानों को पुलिस के खिलाफ भड़काते हुए कहा, “दिल्ली पुलिस किसानों पर जुल्म कर रही है। अब अगर पुलिस पकड़ने आए तो सभी गांव वाले अधिकारियों को बंधक बनालें और जब तक ना छोड़े जब तक जिला प्रशासन या कोई बड़ा अधिकारी न आजाए।”