The rupee strengthened by 15 paise against the US dollar in early trade.

    मुंबई. विदेशी बाजारों में अमेरिकी डॉलर में कमजोरी के रुख के बीच शुक्रवार को रूपये की विनिमय दर सात पैसे के लाभ के साथ प्रति डालर 74.64 (अस्थायी) पर बंद हुई। बाजार सूत्रों ने कहा कि हालांकि, घरेलू शेयर बाजार में कमजोरी और कच्चे तेलकी कीमतों के बढ़ने से रुपये की तेजी पर कुछ अंकुश लग गया।  

    अन्तरबैंक विदेशी विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 74.68 पर मजबूत खुला। कारोबार के दौरान यह 74.57 से 74.68 रुपये के दायरे में घटबढ़ के बाद अंत में पिछले कारोबारी सत्र के मुकाबले सात पैसे का लाभ दर्शाता 74.64 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। बृहस्पतिवार को रुपया प्रति डॉलर 74.71 पर बंद हुआ था। 

    इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.09 प्रतिशत घटकर 92.32 रह गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 182.75 अंक की हानि के साथ 52,386.19 अंक पर बंद हुआ। वैश्विक जिंस वायदा बाजार में ब्रेंट क्रूड की दर 0.98 प्रतिशत बढ़कर 74.85 डॉलर प्रति बैरल हो गयी। एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे और उन्होंने बृहस्पतिवार को 554.92 करोड़ रुपये के शेयरों की बिकवाली की। (एजेंसी)