शिवराज सरकार ने किया बड़ा ऐलान, बंद स्कुल कॉलेज 25 जुलाई से खुलेंगे, जानिये क्या हैं गाइडलाइंस

    मध्य प्रदेश : कोरोना महामारी के चलते पिछले कई महीनों से लगभग देश के स्कुल, कॉलेजेस,सभीं एजुकेशन इंस्टीट्यूट बंद हैं। ऐसे में शिक्षा क्षेत्र पर इसका बेहद बड़ा प्रभाव पड़ा है। सावधानी को लेकर लगाए गए निर्बंध हालांकि अपनी जगह बिल्कुल सही है। लेकिन हमारे देश का भावी भविष्य खतरे में पड़ रहा हैं। इसे देखते हुए शिक्षा का महत्व समझते हुए और कोरोना की स्थिति में सुधार देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने स्कूल, कॉलेजेस फिर से शुरू करने का बड़ा फैसला लिया हैं।  

    कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से पूरे देश में लगभग एक साल से स्कूल कॉलेज सहित सभी एजूकेशनल इंस्टीट्यूट बंद पड़े हैं. बच्चे घर पर ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई कर रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर से पहले कई राज्यों में स्कूल खोलने (School Reopen News) की प्रक्रिया शुरू हुई थी लेकिन तेजी से बढ़ते संक्रमण (Corona Infection) मामलों के बाद फिर से स्कूल बंद कर दिए गए थे। अब एक बार फिर से स्कूलों को खोलने के लिए तमाम राज्यों ने तैयारी शुरू कर दी है। 

    कक्षा 11वीं और 12वीं होगी शुरू 

    मध्य प्रदेश सरकार ने ऐलान कर दिया है कि 25 जुलाई से राज्य में 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू की जाएगी। स्कूलों को खोलने के बारे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि काफी वक्त से स्कूल बंद पड़े हुए हैं। कोरोना की तीसरी लहर का खतरा है लेकिन किसी को नहीं पता कि ये तीसरी लहर आएगी या फिर नहीं आएगी। बच्चे इतने दिनों से घर में बैठे हैं। बच्चे घर में बैठे बैठे कुंठित हो गए हैं। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश में 25 जुलाई से 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू कर दी जाएंगी और कॉलेज खोलने के बारे में सरकार अगस्त में फैसला लेगी।

    50 फीसदी रहेगी क्षमता 

    हालांकि शिक्षा का महत्व समझते हुए इन कक्षाओं की स्कूले तो खुल रही हैं। लेकिन अभी भी कोरोना का खतरा पूरी तरह नहीं गया है। जिसे देख मध्य प्रदेश सरकार ने कुछ नियम लगाए गए हैं। सरकार के इस फैसले के बाद बच्चों में भी खुशी की लहर है। हालांकि स्कूल खोलने के लिए कुछ दिशा निर्देश भी तय किए गए हैं जिन्हें हर स्कूल प्रशासन को मानना जरूरी होगा। 25 जुलाई से 50 फीसदी क्षमता के साथ स्कूल खोले जाएंगे। 

    1 अगस्त से खुल सकते है कॉलेज 

    सूत्रों की मानें तो सरकार 1 अगस्त से कॉलेज भी खोलने का निर्णय ले सकती है। इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि यदि 15 अगस्त तक कोरोना की तीसरी लहर नहीं आती तो राज्य में छोटी कक्षाएं शुरू की जा सकती हैं। सरकार का कहना है कि सरकार ने बहुत ही सोच कर स्कूल खोलने का निर्णय लिया है। सरकार अब जल्द ही इसको लेकर एक सूचना जारी कर सकती है।