भजन सम्राट अनूप जलोटा की आवाज में बुद्ध के उपदेशों का एल्बम जारी

मुंबई. भगवान बुद्ध के जीवन और उनके उपदेश को आईएएस डा. हर्षदीप कांबले ने पहली बार लिरिक्स में उतारा है, जिसे संगीत से सजाया है श्रुति जैन ने और आवाज दी है भजन सम्राट अनूप जलोटा (Anup Jalota) ने। कांसेप्ट निर्देशक किशोर जावडे द्वारा बनाई गई रूपरेखा में एल्बम धम्म तत्थु में न केवल गौतम बुद्ध  (Gautam buddha) की जीवनी दर्शाई गई है, बल्कि उनके उपदेशों को भी सरल शब्दों में पेश किया गया है। 9 मिनट के इस एल्बम में गौतम बुद्ध से जुड़े सभी उपदेशों को सरलता से पिरोया गया है।

एल्बम लांच के अवसर पर भजन सम्राट अनूप जलोटा ने कहा कि आज विश्व को शांति की जरूरत है और भगवान बुद्ध शांति के प्रतीक हैं। उनकी मूर्ति देखने भर से ही शांति मिल जाती है, इसलिए उनके घर में भी भगवान बुद्ध की कई प्रतिमाएं हैं।

आईएएस डा. हर्षदीप कांबले ने कहा कि इस एल्बम के अनूप जलोटा के सुरों से सजने के कारण यह भजन सदियों तक लोग याद रखेंगे। एल्बम की संगीतकार श्रुति जैन ने कहा कि उन्हें अब भी यकीं नहीं हो रहा है कि उनके संगीत से सजे इस एल्बम में अनूप जलोटा ने स्वर दिया है। इस एल्बम धम्म तत्थु को चीन, जापान आदि देशों में भी सब टाइटल के साथ  रिलीज किया जाएगा।  डा. हर्षदीप कांबले ने धम्म तत्थु  के अर्थ को समझाते हुए कहा कि बौद्ध धर्म में आदर्श आदमी की व्याख्या है जो 18 गुणों से जाना जाता है, जो बुद्ध के विचारों पर चलता है और सबके कल्याण के लिए कार्य करता है।