Photo: Instagram
Photo: Instagram

    मुंबई: बॉलीवुड इंडस्ट्री बाहर से जितनी चमक-धमक से भरी है। उसके पीछे की दुनिया उतनी ही काली है। कई बार बॉलीवुड से जुड़ी ऐसी खबरें सामने आ चुकी हैं, जिसने हर किसी को सोचने पर मजबूर कर दिया है। कई स्टार्स के खुलासों ने बताया की इंडस्ट्रीज में टिके रहना और काम पाना दोनों आसान नहीं है। कम के लिए कई बार ऐसे ऑफर आते हैं जिसे कबूल करना तो दूर उसके बारे में कोई सोच नहीं सकता है। इसी ग्लैमर से भरी इंडस्ट्रीज में कई एक्ट्रेस ने कास्टिंग काउच का मुद्दा उठा चुकी है। 

    यहां तक की बॉलीवुड में एक ऐसा टाइम आ गया था जहां “मि टू” (Me Too) की लहर पुरे बॉलीवुड इंडस्ट्री को झकझोर दिया था। इसी कड़ी में एक बार फिर से नया खुलासा हुआ है। इस बार तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) की एक्ट्रेस आराधना शर्मा (Aradhana Sharma) ने भी खुल कर इसपर बात किया है।  आराधना ने भी एक बड़ा खुलासा कर बताया। 

    हाल ही में TOI के एक इंटरव्यू में एक्ट्रेस ने कहा, ‘मेरे साथ एक घटना घटी और मैं इसे अपने पूरे जीवन में कभी नहीं भूल सकती। यह चार-पांच साल पहले हुआ था। मैं तब पुणे में पढ़ रही थी। यह मेरे गृह नगर रांची में हुआ था. वहां एक व्यक्ति था, जो मुंबई में कास्टिंग कर रहा था। मैं पुणे में मॉडलिंग असाइनमेंट कर रही थी और इसलिए मुझे थोड़ा पहचाना जाता था। मैं रांची गई क्योंकि उसने कहा कि वह किसी भूमिका के लिए कास्टिंग कर रहा है। हम एक कमरे में स्क्रिप्ट रीडिंग कर रहे थे और वह था मुझे छूने की कोशिश कर रहा था। मैं समझ नहीं पा रही थी कि क्या हो रहा था। मुझे बस उसे धक्का देना, दरवाजा खोलना और भागना याद है। मैं इसे कुछ दिनों तक किसी से शेयर नहीं कर सकी। यह बहुत बुरा था।’

    आराधना ने आगे कहा, ‘जब यह हुआ तब मैं 19/20 साल की थी। मुझे बहुत बुरा लगता था। मुझे विश्वास के मुद्दे होने लगे। मैं एक आदमी के साथ एक कमरे में नहीं रह सकता, यहाँ तक कि अपने पिता के साथ भी। मैं और मेरी मां भिड़ना चाहते थे, लेकिन हमारे परिवार वालों ने हमें रोक दिया।’

    उन्होंने यह भी बताया कि कैसे उन्हें पहले उनके लुक्स पर कैसे जज किया जाता था, अधारना ने कहा, ‘हम अपने पोर्टफोलियो कई कास्टिंग एजेंसियों को भेजते हैं और उनमें से एक को ‘सुंदर लीड’ भूमिका की तलाश में था। इसलिए मैंने कास्टिंग एजेंट को अपना पोर्टफोलियो आगे बढ़ाने के लिए कहा और उन्होंने कहा, ‘मैंने यहां सुंदर लिखा है लेकिन तुम सुंदर नहीं हो। ये उनके शब्द थे। उन्होंने मुझसे कहा कि मैं ‘सुंदर और सुंदर’ में फिट नहीं हूं और मैं ऐसी भूमिकाएं दूंगा जो तुम पर फिट होंगी।’

    एक समाज के रूप में, लोगों को शारीरिक दिखावे के मामले में अधिक संवेदनशील होने की आवश्यकता है, क्योंकि किसी को केवल उसके आधार पर आंकना नैतिक रूप से गलत है और दूसरे व्यक्ति के लिए दर्दनाक हो सकता है। अब समय आ गया है कि हम सुंदरता की कलंकित और कठोर अवधारणा को तोड़ दें।

    आपको बता दें तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)  एक ऐसा शो है जो कई सालों से दर्शकों का मनोरंजन कर रहा है। इस सीरियल के हर एक किरदार ने लोगों को हंसाया है। इस शो के हर एक किरदार को लोगों ने बहुत पसंद किया है।