Photo: Instagram
Photo: Instagram

    मुंबई: बॉलीवुड में ‘मां’ का किरदार हमेशा से लोगों पर एक अलग तरह की छाप छोड़ने में कामयाब रहा है। इस किरदार को जिस भी अभिनेत्री ने निभाया, वो सीधे दर्शक के दिल पर असर कर गया। बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा रीमा लागू (Reema Lagoo) ने भी कई फिल्मों में मां का किरदार निभाया। उनका जन्म 21 जून 1958 में हुआ था। रीमा का बचपन का नाम नयन भड़भड़े था। उनकी मां मराठी रंगमंच में काम करती थीं इसलिए रीमा का रुझान भी अभिनय की ओर हो गया। हिन्दी-मराठी फिल्मों की अभिनेत्री दुर्गा खोटे से इनकी मां की अच्छी दोस्ती थी, इसलिए उनकी मदद से रीमा को फिल्मों में बाल कलाकार के रूप में रोल मिल गया। पढ़ाई के दौरान ही रीमा में एक्टिंग के प्रति रुझान दिखने लगा था। हाईस्कूल की पढ़ाई के बाद उन्होंने पेशेवर तौर पर अभिनय शुरू किया। रीमा लागू ने अपने करियर की शुरुआत मराठी सिनेमा से की थी। कई सालों तक उन्होंने मराठी थियेटर में काम किया जिसके बाद 1980 में उन्होंने फिल्म ‘कलयुग’ से बतौर सह अभिनेत्री हिंदी सिनेमा में कदम रखा था। 

    रीमा लागू ने अपने करियर की शुरुआत मराठी सिनेमा से की थी। कई सालों तक उन्होंने मराठी थियेटर में काम किया जिसके बाद उनकी एंट्री बॉलीवुड और मराठी फिल्मों में हुई। रीमा ने ‘हम साथ साथ हैं’, ‘कुछ कुछ होता है’, ‘मैंने प्यार किया’, ‘कल हो ना हो’ जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों में यादगार भूमिका निभाई। वे हिंदी फिल्मों के शीर्ष अभिनेताओं जैसे- अजय देवगन, शाहरुख खान, सलमान खान, संजय दत्त आदि की मां का किरदार निभा चुकी थी। रीमा को उस समय पहचान मिली जब उन्होंने फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ में काम किया। इस फिल्म में रीमा ने सलमान खान की मां का रोल निभाया था. इसके बाद से रीमा ने कई हिट फिल्मों में काम किया। 

    फिल्मों के अलावा रीमा लागू रियल लाइफ में भी एक मॉडर्न मां की तरह रहीं। फिल्मों में काम करने के दौरान उनकी मुलाकात पॉपुलर मराठी एक्टर विवेक लागू से हुई। कुछ सालों बाद रीमा लागू और विवेक लागू शादी के बंधन में बंध गए। दोनों की एक बेटी भी है जिसका नाम मृणमयी लागू है।  शादी के कुछ वक्त बात तक तो सब अच्छा चला लेकिन फिर रीमा लागू और और उनके पति के बीच मनमुटाव शुरू हो गया। नतीजा ये हुआ कि शादी के कुछ साल बाद ही रीमा अपने पति से अलग हो गईं। उन्होंने एक सिंगल मदर के तौर पर अपनी बेटी को पाला। खुद को और अपनी बेटी को संवारने के लिए रीमा लागू ने जी-तोड़ मेहनत की। उन्होंने बेटी को कभी पिता की कमी महसूस नहीं होने दी। 

    रीमा (Reema Lagoo) ने अपने करियर में 95 से ज्यादा फिल्में की और इसके अलावा कई टीवी प्रोग्राम में भी दिखीं। ‘तू तू मैं मैं’ और ‘श्रीमान श्रीमती’ काफी हिट हुए थे। संजय दत्त की कमबैक फिल्म ‘वास्तव’ बहुत बड़ी हिट साबित हुई थी। यह फिल्म छोटा राजन के जीवन पर आधारित बताई जाती है। इस फिल्म में रीमा लागू ने संजय दत्त की मां का रोल अदा किया था जो अपने बेटे को गैंगस्टर बनता हुआ देखती है और आखिर में अपने ही बेटे पर गोली चला देती है। फिल्म के इस सीन के लिए रीमा लागू को काफी मेहनत करनी पड़ी थी। दरअसल वो रिवॉल्वर इतनी भारी थी कि शूटिंग के दौरान रीमा पसीने से नहा गई थीं। 

    रीमा लागू एक साफ छवि की अभिनेत्री रहीं। उनका किसी भी तरह के विवाद में ना तो कभी नाम आया और ना ही किसी को-स्टार के साथ उनका नाम जोड़ा गया। अपने चार दशक के करियर में रीमा लागू ने अपनी छवि को कभी दागदार नहीं होने दिया।