पर्ल पुरी और नाबालिग से रेप का मामला में पीड़िता की मां ने तोड़ी चुप्पी, बोलीं- ‘मुझे और मेरी बेटी को घटिया कहा जा रहा है’

    मुंबई: ‘नागिन 3’ फेम पर्ल वी पुरी (Pearl V Puri) को देर रात वसई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। पर्ल वी पुरी पर एक नाबालिग से दुष्कर्म और छेड़छाड़ का आरोप लगा है। पर्ल को POCSO के तहत गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि ये एक पुराना केस है जिसमें एक नाबालिग लड़की ने एक्टर पर टीवी सीरियल में काम दिलाने के नाम पर शोषण का आरोप लगाया है। पर्ल वी पुरी को नाबालिग से रेप के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस खबर को सुनकर पूरा टीवी इंडस्ट्री शॉक्ड है। फिलहाल पर्ल वी पुरी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में ले लिया गया है। पर्ल पुरी के ऊपर लगे आरोपों के बाद टेलीविज़न इंडस्ट्री में हड़कंप मच गया है। अली गोनी, राखी सावंत, अनीता हसनंदानी, करिश्मा तन्ना, एकता कपूर (Ekta Kapoor) समेत कई सितारों ने पर्ल का सपोर्ट किया है और इन आरोपों को झूठा बताया है। पर्ल के ऊपर मामला दर्ज होने के बाद टेलीविजन प्रोड्यूसर एकता कपूर ने खुलासा किया था कि उनकी कथित पीड़िता की मां के साथ बातचीत हुई है जिसमें उन्होंने कहा है कि पर्ल के ऊपर लगाए जा रहे आरोप झूठे हैं। वहीं अब पहली बार कथित पीड़िता ने मां ने इस मामले को लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी है।

    एकता शर्मा ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिए एक पोस्ट शेयर की है। इस पोस्ट के जरिए एकता ने अपने अब तक चुप्पी साधे रखने का कारण बताया है। एकता ने इस पोस्ट में लिखा, ‘कई लोग मुझे फोन कर कह रहे हैं कि मैं मीडिया के सामने आऊं और बात करूं। मेरी चुप्पी को मेरी कमजोरी नहीं समझना चाहिए। न्यायपालिका पर मेरे सम्मान और विश्वास ने मुझे यह कदम उठाने के लिए मजबूर किया है।’

     
     
     
     
     
    View this post on Instagram
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     
     

    A post shared by Ekta Sharma (@ektasd)

    आगे एकता ने लिखा, ‘कई लोगों ने मुझे और मेरी बेटी को पब्लिक के सामने घटिया बुलाना चुना, जो कानून के मुताबिक सही नहीं है। एक पीड़ित का नाम सार्वजनिक करना अपराध है। मैंने चुप रहना चुना है क्योंकि ये कम्प्लेंट मैंने नहीं लिखवाई है। जो भी सच है वो जरूर सबके सामने आएगा। मामला अभी विचाराधीन है और इसलिए मैं किसी से बात नहीं कर रही हूं क्योंकि कस्टडी का मामला उच्च न्यायालय में लंबित है और मेरा सभी से विनम्र अनुरोध है कि कृपया कानून व्यवस्था का मजाक न बनाएं क्योंकि मैंने संबंधित अधिकारियों को बयान दे दिया है। सच्चाई को बाहर आने दो।’ एकता की इस पोस्ट पर कई लोग उनके समर्थन में नजर आ रहे हैं तो वहीं कई लोग उन्हें आगे आकर पर्ल को बचाने के लिए भी कह रहे हैं।