मुर्गो की लड़ाई पर लाखों का जुआ, अवैध मुर्गाबाजार जोरों पर

आरमोरी. शीतकाल को शुरूआत होते ही जिले के ग्रामीण अंचल में मुर्गा बाजार तेजी आ रही है। तहसील के नरचुली में विगत एक माह से उक्त मुर्गा बाजार धडल्ले से चल रहा है। इन मुर्गो की लडाई में लाखों का जुआ खेला जाता है। मात्र इस ओर संबंधित विभाग द्वारा कोई कार्रवाई न करना समझ के परे है।

नरचुली में बिते माह से हर रविवार व बुधवार को अवैध रूप से मुर्गा बाजार आयोजित किया जा रहा है। इस मुर्गा बाजार में शौकीन मुर्गो की लडाई पर लाखों का जुआ खेलते है। किंतु इस ओर संबंधित विभाग  कोई कार्रवाई न करने से आश्चर्य व्यक्त किया जा रहा है। इस मुर्गा बाजार में दिनभर में 30 से 40 मुर्गो की लडाई होती है। इसे देखने के लिए शौकीन और जुआरियों की भीड़ जुटी रहती है। इससे लाखों रूपयों का जुआ खेलने की जानकारी है। 

‘चकरी के चक्कर में अनेक बर्बाद’

रविवार व बुधवार को आयोजित मुर्गा बाजार में अवैध चकरी जुआ में भी तेजी आई है। जुआ के भांति खेले जानेवाले इस खेल में 10 रूपये पर 80 रूपये देने का लालच दिया जाता है। इस खेल पर भी हजारों रूपयों का जुआ खेला जाता है। फलस्वरूप इस खेल के चक्कर में अनेक लोग बर्बाद होने की स्थिति में है। जिससे संबंधित विभाग इस मुर्गा बाजार समेत चकरी लगानेवाले पर कडी कार्रवाई की मांग की जा रही है।