तमाकूजन्य पदार्थ जब्त – तिरपूड व चांदागड में की कार्रवाई

कुरखेडा. गांव संगठन के सहयोग से मुक्तीपथ तहसील दल ने तहसील के तिरपूड तथा चांदागड गांव के किराणा दुकान से बडी मात्रा में तमाकूजन्य पदार्थ जब्त किया है. 

कोरोना संक्रमण का खतरा ध्यान में लेते हुए जिला प्रशासन ने खर्रा व तमाकूजन्य पदार्थो के बिक्री पर पूर्णत पाबंदी लगाई है. जिससे पानठेले बंद है. इसी के साथ्ज्ञ अन्न पदार्थो की बिक्री होनेवाले दुकानों में तमाकूजन्य पदार्थो की बिक्री करना कानुनन अपराध है. कुरखेडा शहर में इस संदर्भ में मुक्तीपथ तहसील दल ने बडी मात्रा में जनजागृति कर बिक्रेताओं से किसी तरह के तमाकूजन्य पदार्थो की बिक्री न करने का हमीपत्र लिखकर लिया है. अनेकों द्वारा खर्रा व सुगंधित तमाकू व अन्य तमाकूजन्य पदार्थ जब्त कर नष्ट किया है. 

बुधवार तिरपूड गांव में नशा उपचार शिविर लेने संदर्भ में मुक्तीपथ गांव संगठना के साथ्ज्ञ तहसील प्रेरक जितेंद्र कुनघाडकर तथा दीक्षा सातपुते ने बैठक ली. गांव में उपचार शिविर लेने का प्रस्ताव भी लिया गया. इस दौरान गांव में किराणा दुकानदार खर्रा व तमाकूजन्य पदार्थ बिक्री करने की जानकारी तहसील दल को मिली. उन्होने गांव संगठना के साथ 3 दुकानों की जांच करने पर एक दुकान में बडी मात्रा में खर्रा, तमाकू, सुगंधित तमाकू तथा गुडाखू आदि साहित्य बडी मात्रा में बरामद हुए. यह सभी पदार्थ जब्त किए. इस दौरान दुकानदार से आगे तमाकूजन्य पदार्थ नहीं बेचने की ऐसा हमीपत्र लिखकर लिया. चांदागड गांव में भी किराणा दुकानदार तमाकूजन्य पदार्थ बचेने की जानकारी गांव भेट के दौरान प्राप्त हुई. वहां 6 दुकानों की जांच करने पर 2 दुकानों में 25 हजार का माल बरामद हुआ. उक्त सभी माल नष्ट किया गया.