file photo
file photo

गोंदिया. जिले में थम सा गया कोरोना संक्रमण पुन: गति पकड़ रहा है. जिससे इसके प्रभावितों की संख्या सतत बढ़ते जा रही है. विशेष कर गोंदिया तहसील में मरीजों की संख्या बढ़ने से गोंदिया जिला मुख्यालय सहित तहसील हाटस्पॉट की दिशा में आगे कूच कर रहा है. जिससे नागरिकों को संक्रमण रोकने के लिए सुरक्षात्मक उपाय योजना की ओर दुर्लक्ष न करें, ऐसा आह्वान किया गया है.

बढ़ते संख्या से चिंता

उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व भी तहसील में ही सबसे अधिक संक्रमण की गति दर्ज की गई थी. जिले में 26 मार्च को पहला मरीज गोंदिया शहर में मिला था. इसके बाद सतत मरीजों की संख्या बढ़ते गई. कारोना संक्रमण का सबसे अधिक असर गोंदिया तहसील में देखा जा रहा है. जिससे गोंदिया तहसील में पीड़ितों की संख्या बढ़ रही है. जिले में कुल पीड़ितों की संख्या में अकेले गोंदिया तहसील की संख्या का आंकड़ा सभी तहसीलों पर भारी है. 

जिले के सभी गांवों में मरीज

तहसील में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6,409 हो गई है. इसमें से 5819 मरीजों ने कोरोना पर मात की है. जिले में कुल 507 क्रियाशील मरीज है. जिले में अब तक कुल 151 कोरोना पीड़ित मरीजों की मृत्यु हो गई है. इसमें भी सबसे अधिक 83 मरीज तहसील अंतर्गत है. इसमें 4 डाक्टरों को भी कोरोना से अपनी जान गंवानी पड़ी है. गोरेगांव में सबसे कम मरीज जिले को पिछले 8 महीनों में कोरोना संक्रमण ने धो डाला है.

जिले के लगभग सभी गांवों में कोरोना ने दस्तक दी है. इसमें सभी तहसीलों में कोरोना मरीजों की संख्या दर्ज की जा चुकी है, जबकि जिला स्वास्थ्य विभाग के कोरोना प्रभावितों के ब्योरे में सबसे कम प्रभावितों की संख्या गोरेगांव तहसील में दर्ज की गई है. इसमें अब तक 468 प्रभावितों को दर्ज किया गया है. इसी तरह 31 सक्रिय मरीज है.