corona
File Pic

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Corona) पूरी तरह बेकाबू होता नज़र आ रहा है। नए मामलों ने अब तक के सारे रिकॉर्ड लगातार टूट रहे हैं। हालात ये हैं कि अन्य राज्यों के मुकाबले महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 56,286 नए मामले सामने (Corona Cases) आए हैं। वहीं कोरोना की चपेट में आने से 376 लोगों की मौत (Corona Deaths) हुई है। इसी के साथ महाराष्ट्र में कोरोना मामलों की कुल संख्या 32,29,547 हो गई है। वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 57,028 पहुंच गई है। हालांकि इस खतरनाक वायरस से पिछले 24 घंटों में 36,130 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई जिससे राज्य में स्वस्थ होने वाले लोगों की कुल संख्या 26,49,757 हो गई है।

    वहीं, देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में कोरोना वायरस की लहर झेल रही है। अन्य शहरों के मुकाबले मुंबई कोरोना वायरस से इस समय बेहद प्रभावित है। शहर में फिलहाल नाइट कर्फ्यू है जिसे मिनी लॉकडाउन भी कहा जा रहा है और ये इसलिए क्यूंकि शहर की ज़्यदातर दुकाने बंद हैं। राज्य सरकार ने मुंबई में कड़ी कोरोना गाइडलाइन जारी कर दी हैं। लेकिन इसके बावजूद मुंबई में लगातार हज़ारों की संख्या में कोरोना केस सामने आ रहे हैं।

    मुंबई में पिछले 24 घंटों में 8,938 कोरोना मामले सामने आए हैं जो मंगलवार और बुधवार के मुकाबले कम हैं। बुधवार को मुंबई में पिछले 24 घंटों में 10,428 मामले सामने आए थे। इस खतरनाक वायरस से शहर में पिछले 24 घंटों में 23 लोगों को मौत हुई है। बीएमसी के आंकड़ों के मुताबिक, शहर में 4,503 कोरोना पेशंट ठीक हुए हैं।

    ऐसे में महाराष्ट्र में कोरोना वैक्सीन की कमी की खबर है, जिसके बाद से केंद्र और राज्य के नेताओं की तरफ से बयानबाजी हो रही है। मुंबई सहित महाराष्ट्र के कई प्रमुख शहरों में कोरोना की वैक्सीन की किल्लत है। जिन जगहों पर वैक्सीन की कमी है उनमें, सतारा, पनवेल, सांगली भी शामिल हैं। इसकी के साथ खबर है कि, मुंबई में कुल 26 वैक्सीनेशन सेंटर बंद कर दिए गए हैं इससे देश में चली रही वैक्सीनेशन ड्राइव की गति पर भारी असर पढ़ सकता है। जिन 26 सेंटरों को बंद किया गया है उनमें से 23 वैक्सीनेशन सेंटर नवी मुंबई में हैं।