During the border crisis with China, US gave some information, warm clothes and equipment to India, know what the Pentagon said on LAC issue
Representative Image

नई दिल्ली: लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल (Line Of Actual Control) पर भारत (India) और चीन (China) की सेनाओं के बीच तनाव बरक़रार है. पिछले पांच महीने से दोनों सेना पूर्वी लद्दाख (East Laddakh), पैंगोंग त्सो (Pangong Tso) सहित कई जगहों पर आमने-सामने है. वहीं तनाव के बीच भारतीय सेना ने चीन को बड़ा झटका दिया है. सेना ने पिछले तीन हफ्तों में एलएसी के छह नई जगहों पर कब्ज़ा कर लिया है. 

सेना ने अपनी पकड़ की मजबूत 
सरकारी सूत्रों से एक समाचार एजेंसी को मिली जानकरी के अनुसार भारतीय सेना ने 29 अगस्त से लेकर 15 सितंबर के बीच LAC के पास स्थित मगर हिल, गुरुंग हिल, रेचेन ला, रेजांग ला, मोखपारी और फिंगर चार स्थित चोटियों पर कब्ज़ा कर अपनी स्थिति मजबूत कर ली है. 

भारतीय सेना द्वारा कब्ज़े में ली गई जगह अब ही तक खाली पड़ी हुई थी. पिछले काफी समय से सेना इसे अपने नियंत्रण में करने की कोशिश में लगी हुई थी. चीन के पहले ही भारतीय सेना ने इन क्षेत्रों को अपने कब्ज़े में ले लिया.

चीन ने सीमा पर बढाई सेना की संख्या
चीन अपने विस्तारवादी चाल से बाज नहीं आ रहा है. वह भारतीय क्षेत्रों पर अतिक्रमण करने की लगातार कोशिश कर रहा है. लेकिन उसे भारतीय सेना के हांथो मुँह की खानी पड़ रही है. भारतीय सेना द्वारा चोटियों को अपने कब्ज़े में लेने के बाद चीन बौखला गया है. उसने अपने ओर सेना की तैनाती को बढ़ा दिया है.