kashmir
Pic : ANI

    नयी दिल्ली/जम्मू. जहाँ जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में बीती शाम CRPF के बंकर पर हुए एक आतंकी हमले के बाद ही देर रात जम्मू एयरपोर्ट (Jammu Airport) के टेक्निकल एरिया में दो धमाके हुए हैं। वहीं अब मौके पर फॉरेंसिक टीम और एक्सपर्ट पहुंची और मुआयना किया गया है। बताया गया कि ब्लास्ट (Blast) रात में करीब दो बजे हुआ था। इस मामले की जांच के लिए अब NIA की टीम भी स्टेशन पहुंच गई है और सूत्रों की मानें तो इस मामले में दो संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है।

    रक्षा मंत्री राजनाथ ने की बात:

    इसी बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के कार्यालय ने बताया कि उन्होंने वायुसेना के उपप्रमुख एयर मार्शल एचएस अरोड़ा से विस्फोटों के संबंध में बात की। उन्होंने बताया कि जांच करने वाले अधिकारी हवाईअड्डे पर विस्फोटकों को गिराने के लिए ड्रोन के संभावित इस्तेमाल की भी छानबीन कर रहे हैं। इस हवाईअड्डे में वायुसेना की विभिन्न संपत्तियां हैं। 

    वायु सेना का बयान :

    भारतीय वायु सेना (IAF) ने ट्वीट किया कि जम्मू वायु सेना स्टेशन के तकनीकी क्षेत्र में रविवार तड़के “कम तीव्रता वाले दो विस्फोट” होने की सूचना मिली।

     इनमें से एक विस्फोट ने एक इमारत की छत को मामूली नुकसान पहुंचाया, जबकि दूसरा विस्फोट खुले क्षेत्र में हुआ। वायु सेना ने कहा, “किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं हुआ। असैन्य एजेंसियों के साथ मिलकर जांच की जा रही है।” रक्षा मंत्री के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू में वायु सेना स्टेशन पर आज हुई घटना के बारे में वायुसेना के उप प्रमुख एयर मार्शल एचएस अरोड़ा से बात की। एयर मार्शल विक्रम सिंह स्थिति का जायजा लेने जम्मू पहुंच रहे हैं।”

    इस घटना के बाद फिलहाल सुरक्षा बलों ने इलाके को कुछ ही मिनटों में सील कर दिया था। वहीं सूत्रों के अनुसार वायु सेना अड्डे पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और भारतीय वायु सेना के अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक चल रही है। बता दें कि जम्मू हवाई अड्डा फिलहाल एक असैन्य हवाई अड्डा है।