New twist in Bengaluru sex scandal, woman writes letter to Chief Justice in Karnataka, accuses former minister Ramesh Jarkiholi of danger

    बेंगलुरु: पूर्व मंत्री रमेश जरकीहोली (Former Minister Ramesh Jarkiholi) से जुड़े कथित सेक्स स्कैंडल (Sex Scandal) में एक और नया मोड़ आ गया है और अब एक असत्यापित चिट्ठी सामने आयी है। बताया जाता है कि वीडियो (Video) में कथित तौर पर नजर आई महिला (Woman) ने इसके जरिए कर्नाटक उच्च न्यायालय (Karnataka High Court) के मुख्य न्यायाधीश से मामले की जांच अपनी निगरानी में कराने का अनुरोध किया है। रविवार को लिखे गए तीन पन्नों के पत्र में महिला ने अदालत से अनुरोध किया है कि वह इस मामले में उसे उत्पन्न खतरे पर संज्ञान ले, मामले की जांच कराए और राज्य सरकार को उसे सुरक्षा देने का निर्देश देते हुए उसे न्याय दें।

    महिला ने आरोप लगाया है कि मामले की जांच कर रही एसआईटी पूरी तरह से जरकीहोली के इशारों पर काम कर रही है और राज्य सरकार भी उनका बचाव कर रही है, ऐसे में उसे जांच एजेंसी पर भरोसा नहीं रह गया है। स्वयं के बलात्कार पीड़िता होने का दावा करते हुए महिला ने कुब्बन पार्क थाने में रमेश जरकीहोली के खिलाफ शिकायत दी है, जिसके आधार पर एक प्राथमिकी दर्ज की गई है।

    महिला ने पत्र में कहा, ‘जरकीहोली बेहद प्रभावशाली व्यक्ति हैं और वह पहले भी मुझे सार्वजनिक रूप से धमकी दे चुके हैं कि वह अपने खिलाफ आरोपों को खत्म करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।” महिला ने कहा, ‘‘मैं पहले भी मुझे और मेरे माता-पिता को रमेश जरकीहोली से खतरा होने की बात कह चुकी हूं, वह बहुत प्रभावशाली व्यक्ति हैं…. मैंने एसआईटी से अपने और अपने माता-पिता के लिए सुरक्षा की मांग भी की है।”

    महिला ने आरोप लगाया है कि अनुरोध करने पर भी एसआईटी ने अभी तक उसे या उसके माता-पिता को सुरक्षा मुहैया नहीं कराई है।