resting area of Ajmer Dargah to be made Corona Care Center, Minority Affairs Minister Mukhtar Abbas Naqvi announced

नयी दिल्ली. केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस के संकट के कारण इस बार भारतीय नागरिकों को हज पर नहीं भेजने का फैसला किया गया है। नकवी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ”कल रात सऊदी अरब सरकार में हज मंत्री का फोन आया था। उन्होंने पूरी दुनिया में कोरोना महामारी के बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा है कि हज-2020 के लिए इस बार भारत से हज यात्रियों को नहीं भेजा जाए।”

उन्होंने कहा कि हमने सऊदी अरब के फैसले का सम्मान करते हुए निर्णय लिया है कि इस बार भारतीय हज यात्रियों को नहीं भेजा जाएगा। सभी चयनित 230000 लोगों को पैसे वापस कर दिए जाएंगे। मंत्री ने कहा कि हज-2020 पर जाने के लिए चयनित लोगों को पैसे वापस किए जाएंगे।

भारतीय हज कमेटी ने पिछले दिनों एक परिपत्र के माध्यम से हज-2020 पर जाने के लिए चयनित लोगों से कहा था कि हज पर नहीं जाने की इच्छा रखने वाले लोग अपने पैसे वापस ले सकते हैं। सऊदी अरब में कोरोना वायरस के मामले लगातार सामने आ रहे हैं तथा वहां की सरकार ने कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया है कि हज के लिए दूसरे देशों से लोग नहीं आएंगे। हज-2020 जुलाई के आखिर और अगस्त महीने की शुरुआत के बीच की अवधि में प्रस्तावित है।