narendra-modi

जामनगर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को गुजरात (Gujrat) के जामनगर में आयुर्वेद अनुसंधान एवं अध्ययन संस्थान को देश को समर्पित किया जिसमें आयुर्वेद से संबंधित विभिन्न पाठ्यक्रमों की पढ़ाई करायी जायेगी । प्रधानमंत्री मोदी ने आयुर्वेद अनुसंधान एवं अध्ययन संस्थान (आईटीआरए) को वीडियो कांफ्रेंस के जरिये देश को समर्पित किया ।

 इस संस्थान को ”राष्ट्रीय महत्व के संस्थान” (आईएनआई) का दर्जा दिया गया है । आईटीआरए को जामनगर ​शहर में स्थित आयुर्वेद विश्वविद्यालय परिसर में स्थापित किया गया है। इसकी स्थापना संसद में कानून बना कर की गयी है । विश्वविद्यालय परिसर में स्थित चार आयुर्वेद संस्थान को आपस में विलय कर इसका निर्माण किया गया है। इन चारों संस्थानों में आयुर्वेद स्नातकोत्तर अध्ययन एवं अनुसंधान संस्थान, श्री गुलाब कुनवेर्बा आयुर्वेद महाविद्यालय, आयुर्वेद औषधि विज्ञान संस्थान तथा महर्षि पतंजलि योग, प्राकृतिक चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान शामिल है ।

सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि सितंबर में संसद में आईटीआरए के निर्माण के लिये विधेयक पारित किया था और इसे राष्ट्रीय महत्व के संस्थान का दर्जा दिया गया था । बयान में कहा गया है कि आयुष (आयर्वेद, योग एवं प्राकृतिक शिक्षा, यूनानी, सिद्ध एवं होमियोपैथिक) क्षेत्र में यह पहला ऐसा संस्थान है जिसे यह दर्जा दिया गया है ।