Narendra Singh Tomar and Amit shah

नयी दिल्ली. प्रदर्शनकारी किसान संगठनों (Farmer Organizations) के नेताओं के साथ 11 वें दौर की महत्वपूर्ण वार्ता के एक दिन पहले कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने बृहस्पतिवार रात भाजपा (BJP) के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की।

सूत्रों ने इस बारे में बताया। इस मुलाकात से पहले, किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के क्रियान्वयन को डेढ़ साल तक स्थगित रखने और समाधान का रास्ता निकालने के लिए एक समिति के गठन संबंधी केन्द्र सरकार के प्रस्ताव को खारिज कर दिया।

संयुक्त किसान मोर्चा ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। हालांकि, कुछ किसान नेताओं ने कहा कि प्रस्ताव पर अभी अंतिम निर्णय किया जाना बाकी है और सरकार के साथ शुक्रवार को बैठक के बाद अगले कदम पर फैसला होगा। वार्ता में सरकार की तरफ से तोमर के अलावा रेलवे, वाणिज्य और खाद्य मंत्री पीयूष गोयल और वाणिज्य राज्य मंत्री एवं पंजाब से सांसद सोमप्रकाश हिस्सा ले रहे हैं।

किसान नेता दर्शन पाल की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, “संयुक्त किसान मोर्चा की आम सभा में सरकार द्वारा रखे गए प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया गया।”

संयुक्त किसान मोर्चा के बयान में कहा गया, “आम सभा में तीन केंद्रीय कृषि कानूनों को पूरी तरह रद्द करने और सभी किसानों के लिए सभी फसलों पर लाभदायक न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए एक कानून बनाने की बात, इस आंदोलन की मुख्य मांगों के रूप में दोहराई गयी।” (एजेंसी)