कांग्रेस में शामिल होने के बाद राहुल गांधी से मिले पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला, लड़ सकते हैं आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव

    नई दिल्ली. पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly Elections) से पहले पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala joins Congress) कांग्रेस का दामन थाम लिया है। वहीं इसके बाद उन्होंने दिल्ली में पार्टी नेता राहुल गांधी से मुलाकात की। इस दौरान पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू भी मौजूद रहे। वहीं, कांग्रेस सूत्रों की मिली जानकारी के अनुसार पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला आगामी पंजाब चुनाव लड़ सकते हैं। 

    सिद्धू मूसेवाला ने शुक्रवार को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjeet Singh Channi) और कांग्रेस (Congress) की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हुए हैं। 

    उधर, नवजोत सिंह सिद्धू ने मूसेवाला को युवा प्रतीक और एक “अंतरराष्ट्रीय हस्ती” बताया। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, “सिद्धू मूसेवाला हमारे परिवार में शामिल हो रहे हैं। मैं कांग्रेस में उनका स्वागत करता हूं।”

    सीएम चन्नी ने पार्टी में गायक का स्वागत करते हुए कहा कि मूसेवाला “अपनी कड़ी मेहनत से एक बड़े कलाकार बने और अपने गीतों से लाखों लोगों का दिल जीता।”

    बता दें कि मूसेवाला का असली नाम शुभदीप सिंह सिद्धू (Shubhdeep Singh Sidhu) है और वह मानसा जिले के मूसा गांव के रहने वाले हैं। उनकी मां एक गांव की मुखिया हैं। गायक (28) के खिलाफ इससे पहले उनके गाने “संजू” में हिंसा और बंदूक संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए मामला दर्ज किया गया था। गायक के खिलाफ हथियार अधिनियम एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया था। इससे पहले लॉकडाउन के दौरान गायक की एक तस्वीर वायरल हुयी थी जिसमें वह बरनाला में फायरिंग रेंज में एके-47 राइफल लिये दिख रहे थे। वहीं, मूसेवाला के पिता पूर्व सैनिक हैं, जो इस मौके पर मौजूद थे।

    कार्यक्रम में मौजूद पंजाब सरकार के परिवहन मंत्री राजा वडिंग ने कहा, “जिस व्यक्ति के दस करोड़ प्रशंसक हैं, इसका मतलब है कि उसने युवाओं को दिशा प्रदान की है, और यही कारण है कि लोग उनके प्रशंसक बन रहे हैं।” 

    माना जा रहा है कि मूसेवाला को पार्टी में शामिल कराने में राजा की महत्वपूर्ण भूमिका थी। बंदूक संस्कृति को बढ़ावा देने के लिये मूसेवाला के खिलाफ लंबित मामले के बारे में पूछे जाने पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, “एक बात समझो, केस दर्ज होने का मतलब दोषी होना नहीं है……मैने भी मामले का सामना किया लेकिन मैने छह चुनाव जीते हैं। यह न्यायिक मामला है और अदालत से जुड़े मामलों में टिप्पणी करना उचित नहीं है।” 

    मूसेवाला के मामले में सिद्धू ने कहा कि इस बारे में लोगों को निर्णय करने दीजिये। उन्होंने कहा कि यह मीडिया ट्रायल नहीं है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने गायक का पार्टी में स्वागत करते हुये कहा, “पंजाब की राजनीति के लिये आज क्रांति का दिन है। सामान्य परिवार का एक व्यक्ति आज कांग्रेस में शामिल हुआ है जो अपनी मेहनत के दम पर एक बड़ा कलाकार बना, जिसने न केवल पंजाबियों का बल्कि पूरी दुनिया में लोगों का दिल जीता है।”

    इस मौके पर मूसेवाला ने कहा कि उन्होंने तीन चार साल पहले संगीत की शुरुआत की थी और लोगों का प्यार और सम्मान उन्हें प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में शामिल होने के निर्णय का एक मात्र कारण यह था कि पार्टी में कई ऐसे नेता हैं जो सामान्य पृष्ठभूमि से हैं। उन्होंने कहा कि वह पार्टी में इसलिये शामिल हुये हैं कि वह लोगों की आवाज उठाना चाहते हैं। (एजेंसी इनपुट के साथ)