Amit Shah targeted Congress, said - Congress is performing on the day of foundation stone of Ram temple, this is appeasement

    नई दिल्ली: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Congress) ने देश में बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी को लेकर शुक्रवार को जगह- जगह विरोध प्रदर्शन (Protest) किया। प्रदर्शन के दौरान  कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) समेत कई बड़े नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। जिन्हे अब छोड़ दिया है। इस मामले पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने अपनी प्रतिक्रिया दी हैं। गृहमंत्री ने कहा कि, मैं मानता हूं कि जिम्मेदार पार्टी के नाते कानून का पालन करना चाहिए। हर रोज ये लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। 

    गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, एक जिम्मेदार पार्टी होने के नाते कानून का सहयोग देना चाहिए। वो (कांग्रेस) रोज प्रदर्शन करते हैं। मेरा मानना है कि कांग्रेस ने आज के विरोध प्रदर्शन से तुष्टीकरण की राजनीति को बढ़ाया है। आज ED ने आज किसी को तलब नहीं किया लेकिन फिर भी उन्होंने प्रदर्शन किया।  

    राम जन्मभूमि के शिलान्यास का विरोध

    अमित शाह ने यह भी कहा, कांग्रेस ने आज के दिन काले कपड़े पहनकर विरोध प्रदर्शन किया जबकि आज ही के दिन PM ने राम जन्मभूमि का शिलान्यास किया था। कांग्रेस आज प्रदर्शन कर संदेश देना चाहते हैं कि वो राम जन्मभूमि के शिलान्यास का विरोध करते हैं और तुष्टीकरण की नीति को आगे बढ़ाना चाहते हैं। 

    कानून-व्यवस्था की स्थिति का सभी को सम्मान करना चाहिए

    गृह मंत्री ने कहा कि, कांग्रेस को जिम्मेदार होना चाहिए और कानून के अनुसार सहयोग करना चाहिए। शिकायत के आधार पर मामला चल रहा है। जहां तक ईडी का सवाल है, देश में कानून-व्यवस्था की स्थिति का सभी को सम्मान करना चाहिए। 

    बढ़ती महंगाई और बेरोजगरी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन 

    कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी और कई खाद्य वस्तुओं को जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) के दायरे में लाए जाने के खिलाफ शुक्रवार को प्रदर्शन किया। जिसके बाद पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा समेत कई नेताओं और 60 से अधिक सांसदों को हिरासत में ले लिया गया था।