वायुसेना प्रमुख बोले-चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बढ़ाया है लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा

    नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच (India-China Border Tension) लद्दाख (Ladakh) में बॉर्डर पर जारी तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार कई दौर की बातचीत दोनों सेनाओं के बीच हुई है। भारत ने भी इस मसले पर अपना रुख सख्त रखा हुआ है। इन सब बीच देश में लगातार सियासी बयानबाजी सीमा विवाद पर समय-समय पर होती रहती है। इसी बीच भारतीय वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ( IAF Chief Air Chief Marshal VR Chaudhari) ने लद्दाख में बॉर्डर पर जो हालात हैं उसे लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बढ़ाया है लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा। 

    भारतीय वायुसेना प्रमुख चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में चीन की वायु सेना अभी भी है। चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बढ़ाया है, इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से हो सकता है कि वह अपनी सेना को जल्दी तैनात कर दें लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा।

    भारतीय वायुसेना की 89वीं वर्षगांठ पर बोलते हुए वायुसेना प्रमुख ने कहा कि इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि मिग-21 की बड़ी संख्या में दुर्घटनाएं हुई हैं। आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि पहले के मुकाबले इन दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आई है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हर विमान उड़ान भरने से पहले एक सख्त जांच से गुजरता है।