Karnataka minister Murugesh Nirani and Yedi

    नयी दिल्ली. कर्नाटक (Karnataka) में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच राज्य के मंत्री मुरुगेश निरानी (Karnataka minister Murugesh Nirani) भाजपा नेताओं (BJP Leaders) से मिलने रविवार को अचानक दिल्ली पहुंचे। हालांकि, निरानी के करीबी लोगों ने दावा किया कि वह निजी दौरे पर राष्ट्रीय राजधानी आए हैं। कर्नाटक में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर संशय बरकरार रहने के बीच मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने रविवार को कहा कि वह इस पद पर बने रहेंगे या नहीं, कल तक पता चल जाएगा।

    कर्नाटक के सबसे प्रभावशाली लिंगायत नेता और राज्य में दो दशक से भाजपा का चेहरा रहे 78 वर्षीय येदियुरप्पा ने रविवार शाम को कहा कि उन्हें अब तक केंद्रीय नेतृत्व से ‘संदेश ‘ नहीं मिला है कि इस पद पर बने रहना है या हटना है। उन्होंने भरोसा जताया कि आज रात या सोमवार सुबह तक इस संबंध में जानकारी मिल सकती है। जब उनसे पूछा गया कि अगर केंद्रीय नेतृत्व से ‘संदेश’ आता है तो वह क्या करेंगे, तब येदियुरप्पा ने कहा, “मैं उसके बाद फैसला लूंगा।”

    खदान मंत्री निरानी भी येदियुरप्पा की तरह लिंगायत समुदाय से संबंध रखते हैं। भाजपा के महासचिव सी टी रवि, कर्नाटक सरकार में गृह मंत्री बसवराज बोम्मई और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी के अलावा निरानी का नाम भी मुख्यमंत्री पद के संभावित उम्मीदवार के तौर पर देखा जा रहा है। (एजेंसी)