'Amfan' takes form, warning of heavy rain: Meteorological Department

    नई दिल्ली. देश के कई हिस्सों में बारिश (Rain) आंशिक तौर पर या पूरी तरह खत्म हो चुकी है। लेकिन कुछ हिस्सों में अभी भी बारिश हो रही है। केरल (Kerala) के कई जिलों में पिछले तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने ऑरेंज और येलो अलर्ट भी जारी कर दिया है। वहीं अब IMD ने देश के कई राज्यों में मानसून लौटने की बात कही है।

    IMD हैदराबाद की निदेशक के. नागरत्ना ने मंगलवार को कहा कि, “संयुक्त स्थिति इस तरफ इशारा करती है कि गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मणिपुर और तेलंगाना के कुछ हिस्सों (हनमकोंडा तक), मिजोरम और त्रिपुरा सहित कई राज्यों से दक्षिण-पश्चिम मानसून लौट गया है।” 

    नागरत्ना ने कहा कि, “16 अक्टूबर को तेलंगाना के कुछ जिलों के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।”

    उधर केरल में मंगलवार को कई हिस्सों में लगातार भारी बारिश होने के कारण नदियों और बांधों में जलस्तर बढ़ गया है। त्रिशूर और कोझिकोड के कई हिस्सों से लोगों को निकालकर राहत एवं पुनर्वास शिविरों में पहुंचाया गया जबकि मल्लापुरम में दो बच्चियों की मौत हो गई।

    मौसम विभाग और राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कोझिकोड, पलक्कड़, मल्लापुरम और वायनाड जैसे विभिन्न जिलों के लिए 15 अक्टूबर से पहले तक नारंगी और पीले अलर्ट जारी किये हैं। नारंगी और पीले अलर्ट क्रमश: मूसलाधार एवं भयंकर वर्षा के संकेत हैं।

    चेतावनी जारी किये जाने तथा नदियों एवं बांधों में लगातार जलस्तर बढ़ने के बाद त्रिशूर, कोझिकोड और मल्लापुरम के जिला प्रशासन हरकत में आ गये और उन्होंने उन परिवारों को राहत शिविरों में पहुंचाना शुरू कर दिया है जो प्रभावित हैं या जिनके प्रभावित होने की आशंका है।

    वायनाड, कन्नूर और कसारगोड के जिला प्रशासन ने कहा कि वे किसी भी आपात स्थिति के लिए तैयार हैं जो वर्षा की वजह से उत्पन्न हो सकती हैं , उन्होंने मछुआरों एवं निचले क्षेत्र में रहने वालों को सचेत रहने की ताकीद की है।

    राज्य में वर्षा के कारण कई सड़कों एवं निचले हिस्सों में पानी भर गया है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के दौरान राज्य के विभिन्न हिस्सों में 64.5 मिली मीटर से 204.4 मिलीमीटर तक वर्षा होने का अनुमान लगाया है। (एजेंसी इनपुट के साथ)