PM Modi Security Breach: Supreme Court constitutes committee under the chairmanship of retired apex court judge Justice Indu Malhotra
File Photo:ANI

    नई दिल्ली: पीएम मोदी (PM Narendra Modi) के बुधवार के पंजाब (Punjab) दौरे के दौरान बड़ी सुरक्षा चूक (Security Lapse) हुई है। फिरोजपुर जिले में हुसैनीवाला के पास पीएम नरेंद्र मोदी के काफिले में सुरक्षा में चूक होने के चलते पीएम का काफिला 15-20 मिनट तक फ्लाईओवर पर फंसा रहा। एएनआई के अनुसार, पंजाब के फिरोजपुर में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने मंच से कहा, ‘कई कारणों से प्रधानमंत्री हमारे बीच उपस्थित नहीं हो रहे हैं लेकिन प्रधानमंत्री ने कहा है कि हम ये कार्यक्रम रद्द नहीं स्थगित कर रहे हैं।’

    इस मामले में गृह मंत्रालय ने बताया कि, गृह मंत्रालय प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर खामी के मामले पर संज्ञान ले रहा है, पंजाब सरकार से विस्तृत रिपोर्ट तलब की गई है। पंजाब सरकार से प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने को कहा गया है। 

    इस मामले में जे पी नड्डा ने कहा, बड़ी सुरक्षा चूक हुई क्योंकि प्रदर्शनकारियों को प्रधानमंत्री के मार्ग तक पहुंच दी गई, जबकि पंजाब के मुख्य सचिव, डीजीपी ने एसपीजी को आश्वासन दिया था कि रास्ते में कोई व्यवधान नहीं है। पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी ने मामले का निपटारा करने के लिए फोन पर बात करने से इनकार कर दिया, राज्य पुलिस को लोगों को प्रधानमंत्री की रैली में शामिल होने से रोकने का निर्देश दिया गया।

    गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान गंभीर सुरक्षा खामी के बाद उनके काफिले ने लौटने का फैसला किया। बयान में यह भी कहा गया कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है। जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त प्रधानमंत्री बठिंडा से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक की ओर जा रहे थे। इस बीच, मांडविया ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री आप सभी से मिलना चाहते थे लेकिन किसी कारणवश वह आज हम लोगों के बीच नहीं आ पा रहे हैं। प्रधानमंत्री की बहुत इच्छा थी आप सभी से मिलने की…उन्होंने कहा है कि कार्यक्रम रद्द नहीं किया गया है बल्कि उसे स्थगित किया गया है।”

    मोदी दो साल के अंतराल के बाद आज पंजाब पहुंचे थे। विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त किए जाने के बाद यह राज्य में उनका पहला दौरा था। इन कानूनों को लेकर किसानों ने लगभग एक साल तक दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन किए थे। 

    दरअसल, बुधवार को बताया गया था कि, प्रधानमंत्री मोदी का शेड्यूल के अनुसार, वह पंजाब के फिरोजपुर (Firozpur) का दौरा करने वाले थे और इस दौरान राज्य में 42,750 करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत के कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास भी करने वाले थे।

    इससे पहल PMO ने एक बयान में कहा था कि, पीएम मोदी के दौरे के दौरान पीएम दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे, अमृतसर-ऊना खंड को चार लेन में परिवर्तित करने, मुकेरियां-तलवाड़ा रेल लाइन का आमान परिवर्तन, फिरोजपुर में पीजीआई सैटेलाइट केंद्र और कपूरथला व होशियारपुर में दो नये चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना संबंधी परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे।