NIA Raid on PFI
file- photo

    नई दिल्ली: राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) ने आतंकवादियों और कुख्यात अपराधियों के बीच उभरती सांठगांठ के मद्देनजर कार्रवाई करते हुए मंगलवार को तीन राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में 13 स्थानों पर छापेमारी की। एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि तीसरे दौर की यह छापेमारी पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और केंद्र शासित प्रदेशों चंडीगढ़ और दिल्ली में की गई।

    प्रवक्ता ने कहा, ‘‘आतंकवादियों, कुख्यात अपराधियों और मादक पदार्थ तस्करों के बीच उभरती सांठगांठ को खत्म करने के लिए चलाए गए तलाशी अभियान के दौरान पंजाब के फाजिल्का, तरन तारन, लुधियाना, संगरूर और मोहाली जिलों, हरियाणा के यमुनानगर जिले, राजस्थान के सीकर जिले और दिल्ली/एनसीआर के उत्तरी जिले में छापेमारी की गई। इस मामले में अगस्त के दौरान दो मामले दर्ज किए गए थे।”

    एनआईए ने कहा कि छापेमारी का मकसद पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में संगठित आपराधिक गिरोहों और उनके सहयोगियों तथा राजस्थान और दिल्ली के अवैध हथियार आपूर्तिकर्ताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करना है। प्रवक्ता ने कहा कि गुरुग्राम/राजस्थान के कौशल चौधरी, प्रह्लादपुर (दिल्ली) के विशाल मान, संगरूर (पंजाब) के बिन्नी गुर्जर, लुधियाना (पंजाब) के रवि राजगढ़ और उनके सहयोगियों के घरों और अन्य परिसरों में तलाशी ली गई।

    अधिकारी ने कहा कि तलाशी के दौरान गोला-बारूद सहित आपत्तिजनक सामग्री जब्त की गई है। प्रारंभिक जांच का हवाला देते हुए एनआईए ने कहा कि ये गिरोह लक्षित हत्याओं को अंजाम दे रहे थे और मादक पदार्थ एवं हथियारों की तस्करी के जरिए ऐसी आपराधिक गतिविधियों के लिए धन जुटा रहे थे। एजेंसी के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ कई गिरोह के सरगना और सदस्य भारत से भाग चुके हैं और पाकिस्तान, कनाडा, मलेशिया और ऑस्ट्रेलिया सहित अन्य देशों से गिरोह चला रहे हैं।” (एजेंसी)