बाल आधार कार्ड बनवाने के लिए नियमों में हुआ बदलाव, जानें क्या है प्रोसेस

    Aadhaar Card : भारत सरकार के सभी महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट में से आधार कार्ड महत्‍वपूर्ण दस्‍तावेज है। यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी (UIDAI) 5 साल से कम उम्र के बच्चों का भी आधार कार्ड बनवाता है जिसे  ‘बाल आधार’ कार्ड कहते हैं। बता दें कि आधार जारी करने वाली संस्था (यूआईडीएआई) ने बच्चों के लिए आधार कार्ड जारी करने की प्रक्रिया में कुछ बदलाव किए है। अब, माता-पिता बच्चे के आधार कार्ड (बाल आधार कार्ड नया नियम) (Baal Aadhaar Card) के लिए जन्म प्रमाण पत्र या उस अस्पताल द्वारा जारी (रिसिप्ट) पर्ची देकर अप्लाई कर सकते हैं जहां बच्चे का जन्म हुआ था।

    UIDAI के अनुसार बाल आधार 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए जारी किया जाता है लेकिन नए नियम के तहत पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए आंखों की रेटिना व की हाथ की पांचों अंगलियों का फिंगर प्रिंट देने की आवश्यकता नहीं होगी। UIDAI ने 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए बायोमेट्रिक की अनिवार्यता को हटा दिया है। विशेष रूप से, बॉयोमीट्रिक की आवश्यकता अभी तब होगी जब बच्चा पांच साल का हो जाएगा। इसके बाद समान्‍य आधार कार्ड की तरह ही बाल आधार कार्ड हो जाएगा।

    इन डॉक्युमेंट की होगी जरूरत 

    • अप्लाई करने के लिए पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा जॉब कार्ड, राशन कार्ड की जरूरत होती है।
    • बाल आधार के लिए ऐसे करें आवेदन
    • सबसे पहले UIDAI की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।  
    • जिसके बाद आधार रजिस्ट्रेशन लिंक पर क्लिक करें।  
    • अप्लाई फॉर्म में बच्चे का नाम दर्ज करें।  
    • आप का फोन नंबर और ईमेल दर्ज भी दर्ज करें। 
    • आधार सेंटर पर विजिट करने के लिए आपको अपॉइंटमेंट लेना होगा। 
    • आधार सेंटर जाकर दस्तावेजों  को जमा कराएं। 
    •  दस्तावेज वेरिफाई की जाएगी। 
    • वेरिफिकेशन के बाद बच्चे का आधार कार्ड जारी कर दिया जाएगा।

    आधार केंद पर ये चीजें साथ ले जाएं

    • नियुक्ति की तिथि पर, नामांकन केंद्र पर आवश्यक दस्तावेज जैसे पहचान का प्रमाण (पीओआई), पते का प्रमाण (पीओए), संबंध का प्रमाण (पीओआर) और जन्म तिथि (डीओबी) साथ ले जाएं। 
    • एक अधिकारी आपके सभी दस्तावेजों की जांच करेगा। 
    • अगर आपका बच्चा पांच साल से ऊपर का है तो बायोमेट्रिक डेटा लिया जाएगा। 
    • लेकिन पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए बायोमेट्रिक डेटा की जरूरत नहीं है, केवल जनसांख्यिकीय डेटा और चेहरे की पहचान की आवश्यकता होगी।
    • एक बार प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद, माता-पिता को उनके आवेदन की प्रक्रिया को ट्रैक करने के लिए एक पावती संख्या प्राप्त होगी। 
    • उन्हें नियुक्ति के 60 दिनों के बाद एक एसएमएस भी प्राप्त होगा और बाल आधार कार्ड 90 दिनों के भीतर आप तक पहुंच जाएगा।