Pic Credit: Google
Pic Credit: Google

    नई दिल्ली. शोध फर्म कैनेलिस के मुताबिक भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर से देश में स्मार्टफोन खंड के विकास की गति सुस्त पड़ सकती है, और आपूर्ति पक्ष की बाधा के चलते औसत बिक्री मूल्य में इजाफा हो सकता है। कैनेलिस के आंकड़ों के अनुसार भारत में स्मार्टफोन की आवक मार्च 2021 को खत्म हुई तिमाही के दौरान 11 प्रतिशत बढ़कर 3.71 करोड़ इकाई हो गई, जो इससे पिछले साल की समान अवधि में 3.35 करोड़ इकाई थी।

    शोध फर्म ने कहा कि भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के चलते दूसरी तिमाही में स्मार्टफोन की आवक बाधित हो सकती है। कैनेलिस ने कहा, ‘‘विभिन्न हिस्सों में संक्रमण का प्रकोप अलग-अलग है, इसलिए देशव्यापी लॉकडाउन की आशंका कम ही है। 

    क्षेत्रीय लॉकडाउन से कच्चे माल और डिवाइस का परिवहन प्रभावित हो सकता है।” कैनेलिस के विश्लेषक सनम चौरसिया ने कहा कि ऐसे में दूसरी छमाही के दौरान स्मार्टफोन ब्रांडों और चैनल साझेदारों के लिए बाधाएं देखने को मिल सकती हैं। (एजेंसी)