Basil leaves are very beneficial, can get rid of serious diseases
File Photo

    -सीमा कुमारी

    हिंदू धर्म में तुलसी के पौधा को बहुत ही शुभ माना जाता है। तुलसी पौधा औषधीय तो होता ही है, साथ ही यह घर वास्तु-दोष को समाप्त करता है। तुलसी भगवान विष्णु जी को बेहद प्रिय है। मान्यता के अनुसार, तुलसी के पौधे को माता लक्ष्मी जी का स्वरूप माना जाता है। 

    इसलिए मां तुलसी की आराधना से जीवन में सुख-समृद्धि और वैभव की प्राप्ति होती है। लेकिन, तुलसी का धार्मिक महत्व होने के साथ ये सेहत के लिए भी गुणकारी मानी जाती है। तुलसी का पानी पीने से सेहत संबंधी कई समस्याओं से आराम मिलता है। इसके साथ ही इस पानी से जुड़ा उपाय करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे में तुलसी का पानी बेहद ही पवित्र माना गया है। आइए जानें तुलसी के पानी से जुड़े कुछ खास उपाय  

    ज्योतिष-शास्त्र के अनुसार, अगर आपका कारोबार धीमा चल रहा है तो आप तुलसी के पानी से जुड़ा उपाय कर सकते हैं। इसके लिए तुलसी के पत्तों को तीन दिन तक पानी में भिगोकर रखें। बाद में इस पानी का छिड़काव अपने दफ्तर, दुकान या कारखाने पर सुबह-शाम पूजा के बाद करें। मान्यता है कि इससे कार्यक्षेत्र में आ रही समस्याएं दूर होकर तरक्की के रास्ते खुलते हैं।

    धार्मिक मान्यताओं अनुसार, अगर घर में कोई लंबे समय से बीमार है तो उसपर भी तुलसी के पानी का छिड़काव करें। इससे बीमारी जल्दी ही ठीक हो सकती है। मगर इसके साथ ही मरीज की दवाओं और खानपान का खास ध्यान रखें।

    यदि आपके घर में लड्डू गोपाल है तो आप उन्हें तुलसी जल से स्नान करवा सकते हैं। मान्यताओं अनुसार भगवान श्रीकृष्ण को तुलसी अतिप्रिय है। ऐसे में इससे लड्डू गोपाल जी का स्नान करवाने से उनकी विशेष कृपा बरसेगी।

    वास्तु पंडितों के अनुसार, रोजाना सुबह-शाम पूजा के बाद तुलसी पानी का पूरे घर में छिड़काव करें। मान्यता है कि इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। घर में सुख-समृद्धि, शांति व खुशहाली बनी रहती है।