30 lakh grant on death from corona, energetic minister announces monthly delivery for employees

मुंबई: मुंबई, ठाणे में बिजली आपूर्ति खंडित होने के पिछले साजिश बताते हुए महाराष्ट्र के ऊर्जामंत्री नीतिन राऊत (Nitin Raut) ने खलबली मचा दी है. मंगलवार को किए अपने ट्वीट में मंत्री ने कहा, “सोमवार दिनांक 10.10.2020 को मुंबई, नई मुंबई और ठाणे क्षेत्र में बिजली आपूर्ति खंडित होने के पीछे साजिश को नाकारा नहीं जा सकता है.”

ज्ञात हो कि सोमवार को मुंबई सहित कई क्षेत्रों में ब्लैक आउट होगया था. ठाणे के नजदीक कलवा-पडघा जीआईएस सेंटर में अचानक आयी तकनीकी खराबी के चलते मुंबई, ठाणे, नवी मुम्बई तथा पनवेल मनपा क्षेत्र में के आंशिक इलाकों में बिजली सप्लाई बाधित हो गई थी.

मुंबई लोकल की सेवा ठप 

पॉवर ग्रिड फेल हो जाने की वजह से सुबह 10.05 बजे से मुंबई लोकल ठप हो गई.सवा दो घंटे से ज्यादा समय तक पश्चिम और मध्य रेलवे की लोकल ठप रही. इस दौरान ट्रेनों और स्टेशनों पर यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मची रही. अचानक विद्युत सप्लाई बंद हो जाने से लोकल सहित अन्य लंबी दूरी की ट्रेनें जहां की तहां थम गईं. रेलवे को पॉवर सप्लाई करने वाली टाटा की पावर ग्रिड से सप्‍लाई घंटो ठप रही जिसका असर मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेनों पर हुआ.

बंद हो गई दुकानें, होटल और रेस्टोरेंट

बता दें कि 2020 में इतने बड़े पैमाने पर ऐसा बत्ती गुल पहली बार हुआ. लॉकडाउन की शिथिलता के बीच जब लोग अपने काम धंधे पर लौटने लगे थे ऐसे दौर में दिन भर बिजली नहीं रहने से भारी नुकसान हुआ. औद्योगिक क्षेत्र में हजारों कंपनियों में घंटों तक बत्ती गुल के कारण कामगारों की छुट्टी करनी पड़ी.