Mayor Kishori Pednekar

    मुंबई. जहाँ मुंबई में अगले साल BMC चुनाव (Mumbai BMC Election) होने को हैं। वहीं इस भयंकर कोरोना महामारी को देखते हुए, फिलहाल चुनाव पर एक सस्पेंस बरकरार है। लेकिन इस मुद्दे पर मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर  (Mumbai Mayor Kishori Pednekar) ने कहा है कि वर्तमान में राज्य की कोरोना स्थिति और इसकी तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखते हुए फिलहाल इस चुनाव को आगे बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है। वहीं उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि इसके लिए तैयारियां तो पहले जैसी ही रखनी होंगी।

    गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की वजह से पहले ही 2021 में होने वाले नवी मुंबई, वसई-विरार, कल्याण-डोंबिवली जैसी महत्वपूर्ण महानगरपालिकाओं के चुनाव (BMC Election) फिलहाल आगे खिसकाए जा चुके हैं। वहीं अब अगले साल होने वाले ठाणे, पुणे, नासिक, नागपुर और मुंबई जैसी 5 महत्वपूर्ण महानगरपालिकाओं के चुनाव पर भी अब कोरोना का भयंकर संकट मंडरा रहा है।

    कोरोना के चलते स्थगित हो सकते हैं आगामी चुनाव :

    दरअसल जब मुंबई की मेयर से यह सवाल पूछा गया कि क्या आगामी फरवरी 2022 में तय समय पर मुंबई महानगरपालिका चुनाव करवाए जाएंगे या नहीं। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि, वर्तमान में कोरोना स्तिथि को देखते हुए ही कोई अहम् फैसला लिया जाएगा। अगर हालात सही नहीं पाए गए तो फिलहाल इस चुनाव को भी आगे बढ़ाया जा सकता है। लें इन सबके उलट अब बीजेपी शिवसेना पर चुनाव को स्थगित करने की साजिश का आरोप भी लगा रही है।

    शिवसेना पर लगा संगीन आरोप :

    इस मुस्से पर BJP नेता आशीष शेलार ने बीते मंगलवार को आरोप लगाया कि इस कोरोना संकट के बहाने अब शिवसेना मुंबई महानगरपालिका के चुनाव को दो साल आगे खिसकाने की साजिश में लगी हुई है। इसके साथ ही उन्होंने शिवसेना पर चुनाव खिसकाने की साजिश रचने का आरोप लगाया। उन्होंने कहना था कि समय से पहले चुनाव कराना, फिर चुनाव आगे खिसकाने के लिए कोरोना का बहाना, 2011 की जनगणना के आधार पर BMC में नए प्रभाग के निर्माण की तैयारी और फिर 30 वार्डों को तोड़ने की कोशिश ये वो 4 साजिशें हैं जो शिवसेना मुंबई के लोगों के खिलाफ रच रही है और महानगरपालिका की सत्ता में खुद के काबिज होने का गलत फायदा उठा रही है।