RT PCR Test
File Photo

    मुंबई. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) एवं पश्चिम बंगाल (West Bengal) में कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों को लेकर महाराष्ट्र (Maharashtra) की महाविकास आघाड़ी सरकार ने दोनों राज्यों को संवेदनशील स्थान की सूची में शामिल किया है। जिसकी वजह से उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल से महाराष्ट्र की सीमा में आने वाले लोगों को अब आरटी-पीसीआर जांच (RT-PCR Test) की निगेटिव रिपोर्ट (Negative Report) अपने साथ लानी होगी।

     राज्य के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के तौर पर अधिसूचित रहने तक इन दोनों राज्यों को ‘संवेदनशील उत्पत्ति का स्थान’ माना जाएगा। 

    संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर लिया गया निर्णय

    आदेश में कहा गया कि वायरस के संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। राज्य सरकार ने 18 अप्रैल को केरल, गोवा, राजस्थान, गुजरात, दिल्ली-एनसीआर और उत्तराखंड को इस सूची में शामिल किया था। कोरोना के मामलों में महाराष्ट्र देश में पहले नंबर पर है। राज्य में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।