accident

  • 27 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं में कमी

शीतला सिंह

मुंबई. मुंबई में 8 महीने में सड़क दुर्घटनाओं में 172 लोगों की मौत हुई है, जबकि पिछले साल सड़क दुर्घटनाओं में 447 लोगों की मौत हुई. इसमें सबसे अधिक युवा बाइक चालक शिकार हुए हैं. हालांकि मुंबई ट्रैफिक पुलिस और ब्लूमबर्ग फिलैन्थ्रपी इंटरनेशल फॉर ग्लोबल रोड सेप्टी संस्था की वार्षिक रिपोर्ट में पिछले 5 सालों में मुंबई में 27 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं में कमी आयी है.

संयुक्त पुलिस आयुक्त (ट्रैफिक) यशस्वी यादव ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस की ओर से सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कई कदम उठाए गए हैं, जिससे पिछले 5 साल में 27 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं में कमी आयी है. इस साल जनवरी से अगस्त तक 162 सड़क दुर्घटनाओं में 172 लोगों की मौत हुई है. जबकि पिछले वर्ष 2019 में मुंबई में 420 सड़क दुर्घटना में 474 लोगों की जान चली गयी थी. इसमें सबसे अधिक 47 फीसदी पदयात्री और 41 फीसदी युवा बाइक चालक शिकार हुए थे. 

मुंबई ट्रैफिक पुलिस की वार्षिक रिपोर्ट

इस साल 8 महीने की तुलना में पिछले साल 281 सड़क दुर्घटनाओं में 300 लोगों की मौत हो गयी थी. जो 47 फीसदी अधिक मौत हुई थी. सबसे अधिक सड़क दुर्घटना परिमंडल 6 में 66 और परिमंडल 7 में 60 लोगों की मौत हुई थी. मुंबई ट्रैफिक पुलिस की वार्षिक रिपोर्ट में सामने आया है कि वाहन चालकों के ट्रैफिक नियम के उल्लंघन के कारण सड़क दुर्घटनाएं हो रही हैं. वर्ष 2015 से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए मुंबई ट्रैफिक पुलिस के साथ अंतरराष्ट्रीय संस्था ‘ ब्लूमबर्ग फिलैन्थ्रपी इंटरनेशल फॉर ग्लोबल रोड सेप्टी ‘ काम कर रही है. यह संस्था वर्ष भर में हुई सड़क दुर्घटनाओं की एनॉलसिस रिपोर्ट तैयार करती है, जिसमें सड़क दुर्घटनाओं के कारण की जानकारी होती है. ब्लूमबर्ग फिलैन्थ्रपी के एनॉलसिस रिपोर्ट के आधार पर सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए उपयोगी कदम उठाए जाते हैं.