Sharad Pawar

  • गृहमंत्री देशमुख ने भी बोला हमला  

मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच में अब तक सीबीआई ने कोई बड़ा खुलासा नहीं किया है. ऐसे में विपक्षी दलों ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला तेज कर दिया है. एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है सीबीआई ने इस जांच में अब तक क्या पता किया है. इसका खुलासा होना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस एक्टर की मौत की जांच कर रही थी, लेकिन केंद्र को यह पसंद नहीं था. 

पवार ने कहा है कि इस जांच में आत्महत्या के मुद्दे को दरकिनार कर दिया गया है. ऐसे में सवाल भी उठने लगा है कि क्या ध्यान हटाने के लिए किसी और चीज की जांच शुरू कर दी  गई है. ऐसे में क्या सुशांत की मौत की सच्चाई कभी सामने आ पाएगी. पवार पंढरपुर में मीडिया से बात कर रहे थे. 

गृहमंत्री देशमुख ने सीबीआई को घेरा 

एनसीपी अध्यक्ष पवार के बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने भी सीबीआई को घेरा है. उन्होंने कहा है कि सीबीआई जांच से ऐसा लगता है सुशांत मामला ठंडे बस्ते में चला गया है. देशमुख ने कहा कि  सीबीआई द्वारा मामले की जांच करते हुए 6 सप्ताह से ज्यादा का समय बीत गया है, लेकिन अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि एक्टर ने सुसाइड की थी या फिर उनकी हत्या हुई थी.उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस इस मामले की जांच प्रोफेशनल तरीके से कर रही थी, लेकिन इसे अचानक सीबीआई को सौंप दिया गया. ऐसे में आम लोगों की तरह  महाराष्ट्र सरकार भी जानना चाहती है कि सुशांत की मौत का सच क्या है. 

कांग्रेस ने खोला मोर्चा 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि एम्स की रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत की विसरा रिपोर्ट में जहर के सबूत नहीं मिले हैं. उन्होंने कहा कि इससे साफ़ हो गया है कि बीजेपी ने बिहार चुनाव को देखते हुए इस मुद्दे को राजनीतिक लाभ के लिए उछाला था. सावंत ने कहा कि एक ओर महाराष्ट्र सरकार राज्य में कोरोना व किसानों की समस्या से जूझ रही है. दूसरी ओर बीजेपी सुशांत के मुद्दे को उछाल कर महाराष्ट्र को बदनाम करने का काम किया है.

सीबीआई का जवाब 

सीबीआई ने सुशांत मामले की जांच को लेकर उठ रहे सवालों पर अपनी सफाई दी है. उन्होंने कहा है कि  इस मामले की जांच प्रोफशनल ढ़ंग से की जा रही है. सीबीआई के मुताबिक इस मामले में अभी तक किसी एंगल को नकारा नहीं गया है. सीबीआई के जवाब से साफ है कि सुशांत की मौत को लेकर अभी सस्पेंस कायम है.सूत्रों के मुताबिक जांच के दूसरे राउंड को लेकर सीबीआई की टीम एक बार फिर मुंबई आएगी.