मराठा आंदोलन पर फडणवीस के साथ कल बैठक

  • मराठा नेताओं ने दी आंदोलन की धमकी 

मुंबई. मराठा आरक्षण पर घिरी ठाकरे सरकार ने अब इस मुसीबत से बाहर निकलने के लिए नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस से मदद मांगी है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे इस बारे में आगे की रणनीति बनाने के लिए मंगलवार को फडणवीस के साथ चर्चा कर सकते हैं. सीएम ठाकरे की अपील पर फडणवीस ने इस मसले पर राजनीति से हट कर हरसंभव सहयोग देने का आश्वासन दिया है. 

इससे पहले सीएम ठाकरे ने अपनी टीम के साथ मैराथन बैठक करने के बाद यह फैसला लिया था कि 15 सितंबर को देवेंद्र फडणवीस के बिहार से वापस लौटने के बाद वे इस पर अंतिम निर्णय लेंगे.

आंदोलन की तैयारी  

मराठा आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम बैन के बाद ठाकरे सरकार की मुश्किलें बढ़ गई है.सुको के इस फैसले के बाद ठाकरे सरकार डैमेज कंट्रोल में लगी है. वहीं अब एक बार फिर मराठा आरक्षण से जुड़े नेताओं ने आंदोलन की धमकी दी है. मराठा महासंघ, संभाजी ब्रिगेड, मराठा सेवा संघ समेत कई संगठनों ने कहा है कि यदि जल्द ही मराठा आरक्षण को बचाने के लिए कवायद नहीं शुरू की तो एक बार फिर राज्य में तीव्र आन्दोलन छेड़ा जाएगा. मराठा आंदोलन की धमकी से ठाकरे सरकार के पसीने छूट गए हैं. 

हम आपके साथ हैं 

मुख्यमंत्री ठाकरे ने मराठा आन्दोलन से जुड़े नेताओं से आंदोलन नहीं करने की अपील की है.उन्होंने कहा कि हम आपके साथ हैं और मराठा आरक्षण को बचाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं. ऐसे में आंदोलन करने की जरुरत नहीं है. कोरोना महामारी से जूझ रही ठाकरे सरकार के खिलाफ यदि मराठा आन्दोलन फिर से शुरू होता है, तो उनके लिए यह दोहरी मार साबित होगी.