नवभारत इम्पैक्ट: अंधेरी के विशाल अपार्टमेंट को किया सील

  • फीवर क्लीनिक लगा कर हुई सबकी जांच

मुंबई. के पूर्व वार्ड के अंधेरी पूर्व स्थित विशाल अपार्टमेंट में 22 कोरोना मरीज मिलने के बाद भी इमारत को सील नहीं किया गया था. लोगों की आवाजाही लगातार हो रही थी जिससे कोरोना फैल रहा था. सोसायटी के लोगों में बीएमसी की इस लापरवाही को लेकर भय व्याप्त था. 

शुक्रवार को नवभारत में खबर आने के बाद हरकत में आये बीएमसी अधिकारियों ने सोसायटी के ए विंग को सील कर दिया जिसमें कोरोना के 15 मरीज मिले थे. बीएमसी ने इस विंग के घरों में काम करने वाली 15 हाउस मेड को भी  कंटेनमेंट जोन रहने तक रोक लगा दिया है. 

 हरकत में आयी  बीएमसी

 बीएमसी उपायुक्त पराग मसूरकर ने बताया कि वहां पर फीवर क्लीनिक का आयोजन कर सभी निवासियों की कोरोना जांच की जा रही है. स्थानीय निवासी पृथ्वीराज मस्के ने कहा कि बीएमसी की लापरवाही से कारण लोग असुरक्षित महसूस कर रहे थे. नवभारत में खबर आने के बाद बीएमसी हरकत में आयी है. इस सोसायटी में बुजुर्ग भी रहते हैं शूगर पेशंट भी हैं जिनके लिए गतिविधियां खतरनाक बन सकती थी. उन्होंने कहा कि जिन हाउस मेड को काम पर आने से रोका गया है वे गरीब हैं. जिनके यहां वे काम करती हैं यदि वे उनका 15 दिन का वेतन काटते हैं तो उनकी संस्था की तरफ से सभी को वेतन दिया जाएगा.