exam
File Pic

    • 100 अंकों की होगी परीक्षा 
    • 10वीं के सिलेबस पर आधारित 
    • 02 घंटे तक चलेगी एग्जाम 
    • 04 विषयों का समावेश 

    नागपुर. 10वीं का परिणाम घोषित होने के बाद अब 11वीं प्रवेश प्रक्रिया आरंभ हो जाएगी. इस बार विभाग द्वारा सीईटी ली जाने वाली है. 100 अंकों की सीईटी 10वीं के सिलेबस पर आधारित होगी. भले ही परीक्षा को एक्छिक रखा गया है लेकिन पहली मेरिट सूची इसी सीईटी के आधार पर बनाई जाएगी. फिलहाल प्रशासन ने सीईटी की तैयारी पूरी कर ली है.

    सोमवार के बाद परीक्षा के बारे में परिपत्रक जारी किया जाएगा. सीईटी परीक्षा में मिलने वाले अंकों के आधार पर ही मेरिट सूची तैयार की जाएगी. गुणवत्ता के अनुसार ही छात्रों को उनकी पंसद के कॉलेजों में प्रवेश मिलेगा. सिटी में 11वीं की 59,000 से अधिक सीटें उपलब्ध है. इस बार परिणाम शत-प्रतिशत होने से प्रवेश के लिए भी ‘मारामारी’ की स्थिति होगी.

    यही वजह है कि सीईटी में अच्छा स्कोर ही छात्रों को उनकी पसंद के जूनियर कॉलेज में प्रवेश की इच्छा पूरी करेगा. प्रवेश के पहले राउंड में सीईटी देने वाले छात्रों को प्राथमिकता दी जाएगी. इसके बाद बनने वाली सूची में सीईटी नहीं देने वाले छात्र शामिल होंगे. इन छात्रों के 10वीं के अंकों को आधार बनाया जाएगा.

    ऑनलाइन होगी परीक्षा 

    उम्मीद की जा रही है कि 11वीं की प्रवेश प्रक्रिया अगस्त से पहले सप्ताह से शुरू हो सकती है. पहले सीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन भरने और फिर परीक्षा की प्रक्रिया पूरी की जाएगी. हालांकि परीक्षा ऑनलाइन ही ली जाने वाली है लेकिन अब तक परीक्षा का प्रारूप नहीं बताया गया है.

    लेकिन 10वीं के पाठ्यक्रम पर आधारित होने से छात्रों को परेशानी नहीं होगी. प्रश्न पत्रिका में अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक शास्त्र विषय के 25-25 अंकों से प्रश्न पूछे जाएंगे. सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ व बहुपर्यायी स्वरूप के होंगे. परीक्षा ओएमआर आधारित होगी. परीक्षा के लिए छात्रों को 2 घंटे का समय दिया जाएगा.

    ITI प्रवेश प्रक्रिया शुरू 

    राज्य की 417 शासकीय और 549 निजी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) में प्रवेश हेतु प्रक्रिया शुरू हो गई है. शासकीय आईटीआई में 92,000 तथा निजी संस्थाओं में 44,000 सहित कुल 1.36 लाख से अधिक सीटें हैं. कुल 91 तरह के  व्यवसाय पाठ्यक्रम उपलब्ध है. इनमें 80 पाठ्यक्रमों के लिए 10वीं उत्तीर्ण और 11 पाठ्यक्रमों के लिए 10वीं उत्तीर्ण व अनुत्तीर्ण छात्र पात्र हो सकेंगे. प्रवेश ऑनलाइन होने से व्यवसाय शिक्षा व प्रशिक्षण संचालनालय की वेबसाइट  https://admission.dvet.gov.in समूची जानकारी उपलब्ध कराई गई है.

    राज्य के प्रत्येक तहसील में कम से कम 1 शासकीय आईटीआई है. इसके अनुसार 358 तहसीलों में  417 शासकीय आईटीआई है. इनमें आदिवासी के लिए 61 संस्था, अनुसूचित जाति व नवबौद्ध छात्रों के लिए 4 संस्था, अल्पसंख्याक 2, व 43 शासकीय आईटीआई में स्वतंत्र सेक्शन, लड़कियों के लिए 15 तथा 28 आदिवासी आश्रमशाला आईटीआई का समावेश है. नागपुर विभाग में 76 शासकीय और 166 निजी आईटीआई का समावेश है. इनमें 28,000 से अधिक छात्रों को प्रशिक्षण दिया जाता है.