दोषी पुलिस कर्मियों को निलंबित करें, फडणवीस ने मृतक के परिवार से की मुलाकात

    नागपुर. विधान परिषद में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि पारडी प्रकरण में मनोज ठवकर ने मास्क नहीं लगाया था तो उससे दंड वसूला जाना था लेकिन पुलिस ने उसके साथ मारपीट की. मास्क नहीं लगाने की वजह से किसी के साथ मारपीट करने का अधिकार पुलिस को नहीं है. इस तरह यदि सामान्य व्यक्ति को मारा जाता होगा तो यह हत्या है. देवेंद्र ने सोमवार को मृत मनोज ठवकर के परिजनों से मुलाकात की.

    इस प्रकरण में सीआईडी जांच के आदेश दिये गये हैं लेकिन दोषी पुलिस कर्मियों को निलंबित करना भी आवश्यक है. उनका तबादला किये जाने मात्र से बात नहीं बनेगी. कोरोना काल में नियमों का पालन होना ही चाहिए लेकिन सामान्य व्यक्ति की गलती और पुलिस की गलती में अंतर है. यदि किसी वाहन चालक के पास लाइसेंस न हो तो चालान काटा जा सकता है. पुलिस उसे डंडे से नहीं मार सकती. आरोप है कि पारडी थानांतर्गत पुलिस द्वारा मारपीट किये जाने से मनोज की मौत हुई. यह घटना बुधवार की रात 8 बजे हुई थी.