9211 new cases of corona in Maharashtra

 विस्फोटक होती जा रही स्थिति

 प्रभावितों की संख्या 487 हुई

धुलिया. कोरोना वायरस की स्थिति धुलिया ज़िले में दिन-ब-दिन विस्फोटक बनती जा रही है. कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. गरीबों के साथ अब कोरोना ने धनवान पढ़े लिखे लोगों को भी अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया है. शनिवार को कोराना के 16 नए संक्रमित रोगियों की निशानदेही से ज़िला वासी थर्रा गए हैं.

शनिवार की देर शाम प्रशासन ने कोरोना का एटम बम फोड़ कर प्रभावितों की संख्या 4 87 बताया है. संख्या बढ़ने से जिला वासियों में कोरोना को लेकर घबराहट और अफरा-तफरी का माहौल है. प्रशासन ने नियमों का पालन और सतर्क रहने का आह्वान किया है.

शहर में कोरोना को लेकर हड़कंप

जिला प्रशासन ने कोरोना के संदेह पर ज़िले के धुलिया शहर तथा धुलिया ग्रामीण शिंदखेड़ा साक्री और शिरपुर शहर के करीब  30 कोरोना संदिग्ध मरीजों के स्वैब  परीक्षण हेतु लिए थे. इसमें 14 व्यक्तियों के सैंपल निगेटिव आए हैं.वहीं धुलिया शहर से 16 पॉजिटिव मरीज मिलने से शहर में हड़कंप मच हैं. जिसमें देविदास कॉलोनी से 18 पुरुष 14 पुरुष, 28 वर्षीय महिला, 10 वर्षीय महिला, 10 पुरुष, 58 वर्षीय  महिला  इस तरह 6 संक्रमित मिले हैं. मोगलाई  से पांच रोगियों की पुष्टि की गई जिसमें  41 वर्षीय महिला, 21 वर्षीय पुरुष  45 वर्षीय पुरुष 35 वर्षीय महिला, 10 वर्षीय बालक  शामिल है. इसी प्रकार रमापति चौक  से एक 41 वर्षीय पुरुष  पवन नगर से 38 वर्षीय पुरुष और दो मरीज बापू भंडारी गल्ली  से 27 वर्षीय पुरुष और  25  वर्षीय महिला कोरोना संक्रमित मिले हैं. अभी तक ज़िले में 487 व्यक्ति कोरोना की चपेट में आए हैं. 46 व्यक्तियों की कोरोना से मौत हुई है.

नियमों का करें कड़ाई से पालन

जिला प्रशासन ने सभी नागरिकों को संयम रखने की अपील की है. कोरोना का मुकाबला करने के लिए जिला अस्पताल पूरी तरह सक्षम है. लॉक डाउन नियमों का कड़ाई से पालन करने के लिए बाजारों में सार्वजनिक स्थानों पर भीड़-भाड़ न करें. चेहरे पर मास्क लगाए रखें और शारीरिक दूरी बनाये रखने की हर संभव कोशिश करने का आह्वान और कोरोना लक्षण दिखाई देने पर तत्काल जिला अस्पताल से संपर्क करने की अपील भी जिला अधिकारी संजय यादव  ने  की है.